मोदी कैबिनेट बैठक: लॉकडाउन बढ़ने के बाद कल होंगे कई बड़े फैसले

कोरोना को लेकर देश में दूसरी बार लॉकडाउन की घोषणा के बाद केन्द्र की मोदी सरकार 15 अप्रैल को अपनी कैबिनेट की एक महत्वपूर्ण बैठक करने जा रही है। इस बैठक में कोरोना को लेकर देश के बिगडते आर्थिक ढांचे को बचाने के उपायों पर चर्चा के बाद कुछ महत्वपूर्ण फैसले लिए जाने की पूरी संभावना है।

नई दिल्ली। कोरोना को लेकर देश में दूसरी बार लॉकडाउन की घोषणा के बाद केन्द्र की मोदी सरकार 15 अप्रैल को अपनी कैबिनेट की एक महत्वपूर्ण बैठक करने जा रही है। इस बैठक में कोरोना को लेकर देश के बिगडते आर्थिक ढांचे को बचाने के उपायों पर चर्चा के बाद कुछ महत्वपूर्ण फैसले लिए जाने की पूरी संभावना है। यह बैठक कल यानी बुधवार को शाम साढै पांच बजे होगी। इसके पहले की बैठक की तरह ही यह बैठक भी वीडियो कांफेंसिग के माध्यम से की जाएगी। इसके पहले एक मोदी कैबिनेट की एक बैठक गत 25 मार्च को हो चुकी है । माना जा रहा है कि इस बैठक में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी एक बार फिर राहत पैकेज के नाम पर राज्यों की कुछ मदद करने की घोषणा कर सकते है।

ये भी पढ़ें… कोरोना: शहर से लेकर गांव तक ऐसे कर रही हैं लोगों की मदद, पीजी की स्टूडेंट ‘पलक’

गाइडलाइन को जारी किया जाएगा

आज प्रधानमंत्री नरेन्द्र मादी ने राष्ट्र के नाम पर संबोधन में कहा है कि बुधवार को शाम एक गाइडलाइन जारी की जाएगी। संभवतः इस बैठक में इसी गाइडलाइन को जारी किया जाएगा।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लॉकडाउन बढ़ाए जाने के ऐलान के बाद इस बैठक में कोरोना संबंधी अलग-अलग मुद्दों के साथ 20 अप्रैल से कुछ जरूरी गतिविधियों की अनुमति दिए जाने की फैसले पर चर्चा हो सकती है।

दरअसल कोरोना संकट के बाद वैश्विक मंदी की आशंका बढ़ रही है, जो पहले के वैश्विक वित्तीय संकट के मुकाबले अधिक गहरी हो सकती है। भारत में भी अल्पकालीन अवधि के वृद्धि अनुमानों में तेजी से गिरावट आई है।

शुरुआत में वैश्विक गिरावट और कोविड-19 संक्रमण बढ़ने के चलते और इसके बाद सरकार द्वारा महामारी को रोकने के लिए घोषित देशव्यापी लॉकडाउन से यह स्थिति बनती दिख रही है।

ये भी पढ़ें…बीजेपी विधायक का अनोखा अंदाज़, सियासी रसूख से दूर रह कर कर रहे ये काम

प्राथमिकता हर व्यक्ति के जीवन को बचाने की

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पहले ही कह चुके हैं कि देश में स्थिति सामाजिक आपातकाल जैसी है और कड़े निर्णय लेने की जरूरत है। उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि उनकी सरकार की प्राथमिकता हर व्यक्ति के जीवन को बचाने की है।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी कैबिनेट की इस बैठक मे मुख्यमत्रियों के साथ देश के आर्थिक ढांचे को बबाने के लिए केोई कारगरनीति की भी घोषणा कर सकते है। क्योंकि कोरोना के खिलाफ इस लड़ाई में देश में राज्य-व्यवस्था के सभी वर्गों की एकजुटता के माध्यम से रचनात्मक और सकारात्मक राजनीति देखने को मिल रही हैं

प्रधानमंत्री मोदी ने मंगलवार को खत्म हो रहे 21 दिनों के लॉकडाउन की अवधि को 3 मई तक बढ़ने का ऐलान कर चुके है। वहीं दूसरी तरफ लॉकडाउन को बढ़ाए जाने के ऐलान के बाद ही रेलवे और नागर विमानन मंत्रालय ने अपनी सभी यात्राएं 3 मई तक के लिए निलंबित कर दी है।

ये भी पढ़ें…रूस में कोरोना के 2,774 मामले बढ़े, अब तक कुल 21,102 केस

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App