UP का सुरक्षित सफर, 32 लाख से ज्यादा लोगों की राज्य वापसी की कहानी

योगी सरकार का दावा है कि प्रदेश में अब तक 1,669 ट्रेनों के माध्यम से 22.67 लाख से अधिक कामगार एवं श्रमिक को लाने और ले जाने की व्यवस्था की गई है, इनमें से अब तक 1,617 ट्रेनों से 21.85 लाख से अधिक लोगों को यूपी में लाया जा चुका है।

मनीष श्रीवास्तव

लखनऊ। लॉकडाउन में देश में सबसे अधिक कामगार उत्तर प्रदेश में आये हैं। दक्षिण के राज्यों से भी योगी सरकार अपने कामगारों को प्रदेश में लाने में सफल हुई है। योगी सरकार का दावा है कि प्रदेश में अब तक 1,669 ट्रेनों के माध्यम से 22.67 लाख से अधिक कामगार एवं श्रमिक को लाने और ले जाने की व्यवस्था की गई है, इनमें से अब तक 1,617 ट्रेनों से 21.85 लाख से अधिक लोगों को यूपी में लाया जा चुका है। इसके साथ ही 55 ट्रेनों को और सहमति प्रदान की गई है। ट्रेनों और बसों से अब तक 26.19 लाख से अधिक लोगों को उनके गृह जनपद में सकुशल पहुंचाया जा चुका है। विभिन्न माध्यमों से अभी तक 32 लाख से अधिक श्रमिक कामगार यूपी में आये हैं।

1,617 ट्रेनों से 21.58 लाख लोग पहुंचे यूपी:

अपर मुख्य सचिव, गृह अवनीश अवस्थी ने गुरुवार को बताया कि गोरखपुर में अब तक 274 ट्रेनों से 3,51,862 कामगार एवं श्रमिक आये हैं। लखनऊ में 113 ट्रेनों के माध्यम से 1,46,515 लोग आए हैं। वाराणसी में 119, आगरा में 11, कानपुर में 17, जौनपुर में 139, बरेली में 12, बलिया में 71, प्रयागराज में 64, रायबरेली में 22, प्रतापगढ़ में 75, अमेठी में 17, मऊ में 49, अयोध्या में 37, गोण्डा में 71, उन्नाव में 28 और बस्ती में 88 ट्रेनों से लोग पहुंचे हैं।

32 लाख से ज्यादा लोग सुरक्षित पहुंच चुके है यूपी:

इसी तरह आजमगढ़ में 43, कन्नौज में 03, गाजीपुर में 33, बांदा में 21, सुल्तानपुर में 28, बाराबंकी में 12, सोनभद्र में 04, अम्बेडकरनगर में 25, हरदोई में 20, सीतापुर में 13, फतेहपुर में 09, फर्रुखाबाद में 02, कासगंज में 09, चंदौली में 17, इटावा में 01, मानिकपुर (चित्रकूट) में 01, एटा में 01, जालौन में 02, रामपुर में 01, शाहजहांपुर में 01, अलीगढ़ में 06, भदोही में 04, मीरजापुर में 11, देवरिया में 103, सहारनपुर में 04, चित्रकूट में 03, बलरामपुर में 19, मुजफ्फरनगर में 01, लखीमपुर खीरी में 01, महोबा में 01, झांसी में 05, पीलीभीत में 01, महाराजगंज में 01 एवं कौशांबी में 01 ट्रेन आ चुकी हैं।

ये भी पढ़ेंःवाहन चालकों के लिए बड़ी खबर, लर्निंग ड्राइविंग लाइसेंस पर बड़ा फैसला

इसके साथ ही मुरादाबाद, मेरठ, श्रावस्ती, सिद्धार्थनगर, संत कबीर नगर, कुशीनगर, हमीरपुर, बहराइच, में भी ट्रेन आ रही हैं।

इन राज्यों से आये इतने प्रवासी मजदूर

अपर मुख्य सचिव ने बताया कि प्रदेश में गुजरात से 530 ट्रेन से 7,76,489 लोग, महाराष्ट्र से 440 ट्रेनों से 5,94,349 लोग, पंजाब से 234 ट्रेनों से 2,75,335 कामगारों को लेकर प्रदेश में आ चुकी हैं। इसके साथ ही तेलंगाना से 23, कर्नाटक से 57, केरल से 15, आन्ध्र प्रदेश से 11, तमिलनाडु से 40, मध्य प्रदेश से 02, राजस्थान से 36, गोवा से 21, दिल्ली से 98, छत्तीसगढ़ से 01, पश्चिम बंगाल से 02, उड़ीसा से 01 ट्रेन, असम से 01 ट्रेन, त्रिपुरा से 01 ट्रेन, हिमाचल प्रदेश से 04 ट्रेन, उत्तराखण्ड से 04, जम्मू-कश्मीर से 02 तथा उत्तर प्रदेश से 91 ट्रेनों के माध्यम से प्रदेश के विभिन्न जनपदों में कामगारों को पहुंचाया गया है।

ये भी पढ़ेंः विशेष विमान से लौटेंगे लॉकडाउन में फंसे पालतू जानवर, देनी पड़ी इतनी भारी रकम

3,700 बसों से 1,10,000 से अधिक लोगों का आवागम

उन्होंने बताया कि प्रदेश में 9,000-10,000 हजार परिवहन निगम की बसें तथा 2,000 अनुबंधित बसें जबकि 60,000 कर्मचारी परिवहन विभाग में हैं। उन्होंने बताया कि 01 जून से संचालित बस सेवा के माध्यम से पहले दिन 2,200 बसों से 52,000 लोगों को, दूसरे दिन 3,100 बसों से 68,000 व तीसरे दिन 3,700 बसों से 1,10,000 से अधिक लोगों को एक स्थान से दूसरे स्थान तक पहुंचाया गया।

बसों के संचालन में नियमित सेनिटाइजेशन जरुरी

अवस्थी ने बताया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने परिवहन निगम के सभी कार्मिकों की मेहनत, लगन व निष्ठा से किये गये कार्यों की सराहना करते हुए निर्देश दिए कि उत्तर प्रदेश राज्य सड़क परिवहन निगम की बसों को संक्रमण से सुरक्षा सम्बन्धी प्रोटोकाॅल के अनुरूप संचालित किया जाए। बसों के संचालन में यह सुनिश्चित किया जाए कि इनका नियमित सेनिटाइजेशन हो। बस यात्री मास्क पहनकर यात्रा करें। यात्रियों की इंफ्रारेड थर्मामीटर से स्क्रीनिंग करते हुए उनके लिए सेनिटाइजर की व्यवस्था भी की जाए। बस ड्राइवर तथा कंडक्टर मास्क तथा ग्लव्स अवश्यक इस्तेमाल करें। उन्होंने निर्देश दिए हैं कि बस अड्डों पर शारीरिक दूरी का कड़ाई से पालन कराया जाए।

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App