×

छेड़छाड़ के आरोपियों ने मां-मौसी को पीटा, उपचार के दौरान मौत

मृतका के पति फिरोज आलम के मुताबिक हमलावरों ने पत्थर और चापड़ से हमला किया था। महबूब, आदिब, पिंटू, श्यामबाबू, महफूज, जबीन, फिरोज, विक्की समेत इनके कई साथी थे। बीते 08 तारीख की रात पत्नी और साली दवा लेने के लिए निकली थी। उसी वक्त महबूब ने अपने साथियों के साथ मिलकर हमला कर दिया।

Shivakant Shukla

Shivakant ShuklaBy Shivakant Shukla

Published on 18 Jan 2020 6:46 AM GMT

छेड़छाड़ के आरोपियों ने मां-मौसी को पीटा, उपचार के दौरान मौत
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

कानपुर: यूपी में अपराधियों के हौसले बुलंद हैं। कानपुर से एक ऐसी घटना सामने आई है, जो कि बेहद निंदनीय है। यहां छेड़छाड़ के आरोपियों ने नाबालिग पीड़िता की मां और मौसी को दर्जनों साथियों के मिलकर जमकर पीटा था। पीड़िता की मां और मौसी का उपचार बीते 8 दिनों से हैलट अस्पताल में चल रहा था। शुक्रवार को इलाज के दौरान रूबी की मौत हो गई। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

ये भी पढ़ें—यहां देवी मां को चढ़ता है नॉनवेज, भक्तों को प्रसाद में बंटती है ‘मटर बिरयानी’

दरअसल, चकेरी थाना क्षेत्र जाजमऊ रहने वाली रूबी की नाबालिग बेटी से क्षेत्र में रहने वाले महबूब ने छेड़छाड़ किया था। रूबी ने 2018 में मुकदमा लिखवाया था। आरोपी लगातार पीडित पक्ष पर मुकदमा वापस लेने का दबाव बना रहे थे। बीते 09 जनवरी को मुख्य आरोपी ने दर्जनों साथियों के साथ रूबी और उसकी बहन रूखसाना पर जानलेवा हमला कर दिया था। दोनो को गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

मृतका के भाई सलीम खान ने कहा कि...

मृतका के भाई सलीम खान के मुताबिक हम लोग उस दिन ड्यूटी पर थे और हमारी बहने घर पर थी। आठ से दस लोग घर पर घुसे और बहनों के साथ बदसलूकी की। घर से घसीट कर सभी को जमकर पीटा था जान से मारने का प्रयास किया था। पुलिस को सूचना देने को सूचना देने के बाद हम लोगों ने अस्पताल में भर्ती कराया। बीते 09 जनवरी को हैलट में भर्ती कराया गया था। शुक्रवार को उनकी इलाज के दौरान मौत हो गई है। रूबी की लड़की का केस चल रहा है इसमें इन लोगों ने धमकी थी। केस वापस लेलों वर्ना जान से मार देंगें। जब केस वापस नहीं लिया तो जान से जानलेवा हमला कर दिया।

हमलावरों ने पत्थर और चापड़ से हमला किया था

मृतका के पति फिरोज आलम के मुताबिक हमलावरों ने पत्थर और चापड़ से हमला किया था। महबूब, आदिब, पिंटू, श्यामबाबू, महफूज, जबीन, फिरोज, विक्की समेत इनके कई साथी थे। बीते 08 तारीख की रात पत्नी और साली दवा लेने के लिए निकली थी। उसी वक्त महबूब ने अपने साथियों के साथ मिलकर हमला कर दिया।

ये भी पढ़ें—इसलिए घटेंगे पीठासीन अधिकारियों के अधिकार, जानिए पूरी बात…

एसएसपी अंनतदेव के मुताबिक वर्ष 2018 में एक अभियोग पंजिकृत किया गया था। हमलावर सभी मुल्जिम थे और जमानत पर बाहर थे। पीड़िता के भाई और ये सभी बैठकर शराब पीते थे। इस बात को परिवार ने शिकायत किया था इसके बाद इन सभी ने उनके साथ मारपीट की थी। हमले में घायल महिला 8 दिन से भर्ती थी। आज उसकी मौत हो गई है इसमें तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है। अन्य लोगो को पकड़ने के लिए टीमों का गठन किया है।

Shivakant Shukla

Shivakant Shukla

Next Story