राम में लीन मुस्लिम महिलाएं, रामचरित मानस का पाठ किया शुरु

वाराणसी के लमही गांव में स्थित मुस्लिम महिला फाउंडेशन की ओर से 3 दिन से रामचरितमानस का पाठ शुरू किया गया है। इसकी अगुवाई मुस्लिम महिलाएं हिंदू महिलाओं के साथ मिलकर कर रही हैं।

Published by Rahul Joy Published: August 4, 2020 | 5:55 pm

वाराणसी। अयोध्या में राम जन्मभूमि पूजन को लेकर पूरे देश में उत्साह चरम पर है। धर्म नगरी को आकर्षक तरीके से सजाया गया है। इस खास पल का इंतजार हर किसी को है। सिर्फ हिंदू ही नहीं बल्कि मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम में आस्था रखने वाले मुस्लिम भी भूमि पूजन के लिए प्रार्थना कर रहे हैं। वाराणसी में मुस्लिम महिलाओं के एक समूह ने तो रामचरित मानस का पाठ भी शुरु कर दिया है।

बारिश ने मचाई तबाही: नाले में बह गए ये सभी, डूब गई सड़कें और घर

हर साल रामनवमी पर उतारती हैं आरती

तीन दिवसीय रामचरित मानस का पाठ शुरु करने वाली मुस्लिम महिलाओं का मानना है कि भगवान राम उनके भी पूर्वज हैं। यही कारण है कि जब पांच सौ सालों बाद रामजन्म भूमि पूजन की बेला आई तो ये महिलाएं धर्म और मजहब की दीवारें गिराकर भगवान राम की भक्ति में लीन हो गईं। हालांकि ये कोई पहली बार नहीं है जब मुस्लिम महिलाओं के इस समूह ने भगवान राम की भक्ति शुरु की है। हर साल रामनवमी के दिन ये महिलाएं भगवान राम की आरती उतारती हैं।

उत्तराखंड में राम मंदिर भूमि पूजन की तैयारियां शुरू, लोग काफी उत्साहित

राम को मानती हैं पूर्वज

वाराणसी के लमही गांव में स्थित मुस्लिम महिला फाउंडेशन की ओर से 3 दिन से रामचरितमानस का पाठ शुरू किया गया है। इसकी अगुवाई मुस्लिम महिलाएं हिंदू महिलाओं के साथ मिलकर कर रही हैं। रामचरितमानस पाठ के साथ-साथ बीच-बीच में हिंदू मुस्लिम महिलाएं मिलकर राम भक्ति भजन में भी तल्लीन नजर आती हैं। इन मुस्लिम महिलाओं का मानना है कि सैकड़ों वर्षों के लंबे इंतजार और कुर्बानी के बाद अब राम जन्म भूमि पूजन होने जा रहा है। चूंकि राम मुसलमानों के भी पूर्वज रहे हैं, इसलिए इसकी खुशी उन सभी मुस्लिमों को भी है। यही वजह है कि उन्होंने लगातार तीन दिनों तक के लिए रामचरितमानस का पाठ शुरू किया है।

रिपोर्ट- आशुतोष सिंह, वाराणसी

सुशांत सिंह राजपूत का सिम रोज क्यों बदला, इसकी जांच हो: बीजेपी नेता नारायण राणे

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App