सावधान: मोदी सरकार में प्रॉपर्टी रखने वालों के लिए बुरी खबर: पढ़ें पूरा मामला

मोदी सरकार में बीजेपी शासित राज्य उत्तर प्रदेश में प्रापर्टी रखने वालों के लिए बड़ी खबर सामने आ रही है। यूपी में अब सभी शहरी संपत्तियां, स्वामी(मालिक) के आधार कार्ड से लिंक कराई जाएंगी।

लखनऊ: मोदी सरकार में बीजेपी शासित राज्य उत्तर प्रदेश में प्रापर्टी रखने वालों के लिए बड़ी खबर सामने आ रही है। यूपी में अब सभी शहरी संपत्तियां, स्वामी(मालिक) के आधार कार्ड से लिंक कराई जाएंगी।

इसके लिए योगी सरकार ने पूरा प्लान तैयार कर लिया है। बताया जा रहा है कि आदित्यनाथ की सरकार कर्नाटक की तर्ज पर यहां भी अर्बन प्रॉपर्टीज ऑनरशिप रिकॉर्ड (यूपीओआर) योजना लागू करने जा रही है।

ये भी पढ़ें…सीएम योगी ने पासपोर्ट ऐप किया लांच, अब पुलिस सत्यापन होगा आसान

इसके लिए जरूरी कदम उठाये जा रहे है। यह योजना मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के मुख्य आर्थिक सलाहकार के. वी. राजू की पहल पर लागू की जा रही है।

नाम न छापने की शर्त पर एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि इस स्कीम की मदद से बेनामी संपत्तियों और अन्य संपत्तियों की पहचान करने में सहायता मिलेगी और नगर निकायों में कर भंडारण भी बढ़ेगा।

अधिकारी ने ये भी बताया कि फर्स्ट फेज में मेरठ, प्रयागराज लखनऊ, कानपुर, आगरा, गाजियाबाद, वाराणसी, में ये स्कीम लागू की जाएगी। इस काम में यूपी सरकार  सर्वे ऑफ इंडिया से सभी जरूरी मदद लेगी और एक रिटायर्ड आईएएस ऑफिसर की अध्यक्षता में एक हाई लेवल कमेटी का गठन किया जाएगा। जिसमें लगभग सभी विकास प्राधिकरणों और नगर निकायों के प्रतिनिधियों को शामिल किया जाएगा।

ये भी पढ़ें…प्रधानमंत्री उज्जवला योजना: उत्तर प्रदेश को देश में मिला पहला स्थान