Top

यूपी में तिरंगे का अपमान फिरः रायबरेली में उल्टा ध्वजारोहण, विवाद शुरु

इसी बीच मीडियाकर्मी उधर से निकले तो उनकी नजर उल्टे झंडे पर पड़ गई। जब उन्होंने प्रधानाध्यापिका से इसकी शिकायत की तो वह माफी मांगने लगी।

Roshni Khan

Roshni KhanBy Roshni Khan

Published on 28 Jan 2021 6:30 AM GMT

यूपी में तिरंगे का अपमान फिरः रायबरेली में उल्टा ध्वजारोहण, विवाद शुरु
X
यूपी में तिरंगे का अपमान फिरः रायबरेली में उल्टा ध्वजारोहण, विवाद शुरु (PC: social media)
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

रायबरेली: उत्तर प्रदेश में जहां गणतंत्र दिवस को लेकर कई दिनों से तैयारी की जाती है वही आज एक ऐसा वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ है जिसको लेकर शिक्षा विभाग शर्मसार होता नजर आ रहा है। ताजा मामला डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा के प्रभार वाले जिले रायबरेली-लालगंज क्षेत्र के पूरेमलंगा गांव स्थित प्राथमिक विद्यायल में गणतंत्र दिवस को उल्टा झंडा फहराया गया। घंटो उल्टा झंडा फहराता रहा और वहां पर कार्यक्रम चलते रहे।

ये भी पढ़ें:किसान नेताओं के पास 3 दिनः दिल्ली पुलिस से सामना, लुकआउट नोटिस होगा जारी

मीडियाकर्मी उधर से निकले तो उनकी नजर उल्टे झंडे पर पड़ गई

इसी बीच मीडियाकर्मी उधर से निकले तो उनकी नजर उल्टे झंडे पर पड़ गई। जब उन्होंने प्रधानाध्यापिका से इसकी शिकायत की तो वह माफी मांगने लगी। उल्लेखनीय है कि प्राथमिक विद्यालय पूरे मलंगा स्कूल में एसएमसी अध्यक्ष गंगादयाल ने वहां की प्रधानाध्यापिका गोमती देवी की मौजूदगी में उल्टा तिरंगा फहरा दिया।

raebareli-matter raebareli-matter (PC: social media)

इसके बाद वहां कुछ कार्यक्रम भी आयोजित हुए लेकिन किसी का ध्यान इस ओर गया ही नही। उल्टा लटका झंडा देश के सम्मान को मुंह चिढ़ाता रहा। सबसे बड़ी बात यह है कि जिनपर देश को आगे ले जाने के लिए युवाओं को पढ़ा लिखा कर शिक्षित बनाने की जिम्मेदारी है जब वही इस तरह की गलतियां दोहराएंगे तो देश के भविष्य का क्या होगा यह सोंचनीय है।

ये भी पढ़ें:पंडित जसराज: कुमार गंधर्व की डांट ने बना दिया रसराज, तबला वादन छोड़ लिया ये प्रण

अब देखना यह है कि शिक्षा विभाग के आलाअधिकारी इस तरह की गलती करने वाली प्रधानाध्यापिका के खिलाफ कोई कार्रवाई करते हैं या फिर मामले को रफादफा कर दिया जाता है। वही बेसिक शिक्षा अधिकारी आनंद प्रकाश शर्मा से बात करने की कोशिश की गई तो उन्होंने फोन रिसीव नहीं किया।

रिपोर्ट- नरेन्द्र सिंह

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Roshni Khan

Roshni Khan

Next Story