कांग्रेस का योगी सरकार पर हमला, बेटी की लाश जलाने का दोषी कौन

कांग्रेस प्रदेश अध्‍यक्ष अजय कुमार लल्‍लू और विधानमंडल दल नेता आराधना मिश्रा मोना ने रविवार की शाम पत्रकारवार्ता में कहा कि योगी सरकार को बताना होगा कि आखिर हाथरस में गैंगरेप पीड़िता का शव किसके आदेश से जलाया गया है।

priyanka-gandhi-ajay-kumar-aradhana-mishra

कांग्रेस का योगी सरकार पर हमला, बेटी की लाश जलाने का दोषी कौन (social media)

लखनऊ: हाथरस कांड को लेकर योगी सरकार पर लगातार हमलावर कांग्रेस ने गैंगरेप पीड़िता के अंतिम संस्‍कार को लेकर रविवार को नया हमला बोला। कांग्रेस ने पूछा कि आखिर प्रदेश सरकार कब बताएगी कि परिवारवालों की मर्जी के बगैर किसके आदेश पर बेटी का शव जलाया गया।

ये भी पढ़ें:दिग्गज अभिनेत्री का निधन: बॉलीवुड में शोक की लहर, किडनी फेल होने से हुई मौत

अजय कुमार लल्‍लू और आराधना मिश्रा मोना ने पत्रकारवार्ता में कहा

कांग्रेस प्रदेश अध्‍यक्ष अजय कुमार लल्‍लू और विधानमंडल दल नेता आराधना मिश्रा मोना ने रविवार की शाम पत्रकारवार्ता में कहा कि योगी सरकार को बताना होगा कि आखिर हाथरस में गैंगरेप पीड़िता का शव किसके आदेश से जलाया गया है। इसका जिम्‍मेदार कौन है। उन्‍होंने कहा कि जब पीडित परिवार ने हाथरस डीएम के व्‍यवहार को लेकर गंभीर आरोप लगाए हैं। उन पर पीडिता के चाचा को लात मारने का भी आरोप है तो उन्‍हें अब तक क्‍यों नहीं हटाया गया है।

आराधना मिश्रा ने कहा कि पीड़िता परिवार ने प्रियंका जी के सामने 5 मांग रखी

आराधना मिश्रा ने कहा कि पीड़िता परिवार ने प्रियंका जी के सामने 5 मांग रखी। हाथरस के डीएम को हटाकर कार्रवाई की जाए। क्यों परिवार की अनुमति लिए बगैर बेटी को पेट्रोल डालकर जला दिया गया। हिन्दू संस्कार में रात को अंतिम सरकार नही किया जाता। उन्‍होंने आरोप लगाया कि बेटी को उत्तर प्रदेश की सरकार ने जलाया है। बेटी की मां रो-रोकर कहती रही कि उसे बेटी का शव दिया जाए लेकिन जिस मां ने 9 महीने अपनी बेटी को कोख मे रखा उसके अधिकर झीन लिए। ये सरकार हिंदुत्व की ठेकेदार बनती है। लेकिन आधी रात के बाद शव को आग लगवा दी।

पीड़िता की मां की आह योगी जी कुर्सी को हिलाकर रख देगी

उन्‍होंने कहा कि पीड़िता की मां की आह योगी जी कुर्सी को हिलाकर रख देगी। पीड़ित परिवार की ओर से बताया जा रहा है कि बार बार हमारे परिवार को धमकाया जा रहा है। क्यों मामले को गुमराह किया जा रहा। एक बेटी को जीते जी न्याय नही मिल पाया। बेटी के मरने के बाद उसके चरित्र पर सवाल कर रही है ये सरकार।

hathras-case
hathras-case (social media)

एडीजी कहते है बेटी के साथ बलात्कार हुआ ही नही।जो बेटी ने आखिरी बार बयान दिया उसमे दो लोगो के नाम भी बताए। उसके बाद भी क्यों उन्हें बचाने की कोशिस की जा रही है। बेटी एफआईआर लिखाने अपने परिवार के साथ थाने गयी। क्यों उसका मेडिकल नही कराया गया। तीन दिन बाद मेडिकल रिपोर्ट में रेप की पुष्टि नही होती। निर्भया केस के बाद रेप के मामलों में बदलाव किया गया । अब बीजेपी की सरकार में बैठे लोग उस बेटी के चरित्र का हनन कर रही है।

कांग्रेस प्रदेश अध्‍यक्ष अजय कुमार लल्‍लू ने कहा

कांग्रेस प्रदेश अध्‍यक्ष अजय कुमार लल्‍लू ने कहा कि महिला अपराध में उत्तर प्रदेश नंबर एक पर है। उत्तर प्रदेश जंगल राज मे तब्दील हो चुका है। जब इलाज की व्यवस्था करानी थी तब उसके परिवारी जन सरकार से गुहार कर रहे थे। सरकार न्याय दे नही पाई, इलाज करा नही पाई। जो न्याय के लिए सड़क पर उतरे सरकार ने उनका दमन करना शुरू कर दिया। हम पूछना चाहते है योगी जी से की 20 दिनों बाद आपके डीजीपी और प्रमुख सचिव समझ पाए कि देश अपनी एक बेटी के इंसाफ के लिए लड रहा है। क्यों योगी सरकार ने दूसरे दिन कार्रवाई नही की। राहुल जी कहते है वह अकेले जाना चाहते है तो इस सरकार की पुलिस उनपर लाठियां चलाती है। प्रियंका गांधी वहां जाना चाहती थी राहुल जी वहां जाना चाहते थे।

ये भी पढ़ें:Maruti की नई कार: खरीद के लिए लगी लंबी लाइन, मचा रही धमाल

आपकी सरकार ने प्रियंका जी से दुर्व्यवहार किया है

आपकी सरकार ने प्रियंका जी से दुर्व्यवहार किया है। आपने सीबीआई जांच की मांग की। मैनपुरी मामले भी सीबीआई जांच कराई थी । वो जांच कहा यूपी एससी मे जांच का आदेश दिया, उसका क्‍या हुआ। आप सिर्फ देश को गुमराह कर रहे है । आप लोगो के साथ खिलवाड़ कर रहे है। इसलिए पीड़ित परिवार मांग कर रहा है कि सुप्रीम कोर्ट की देखरेख में जांच कराई जाए । हाथरस, हरदोई, आजमगढ़, मे बेटियों के साथ घटना हुई है। यही वही उत्तर प्रदेश है जहां बेटी जलाई जा रही है। खुद गोरखपुर में बेटी को सिगरेट से जलाया जा रहा है। महिला आयोग चुप क्यों है महामहिम चुप क्यों है।

अखिलेश तिवारी

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App