परमवीर चक्र विजेता वीर अब्दुल हमीद की पत्नी का निधन, CM योगी ने जताया दुख

पाकिस्तानी सेना को 1965 की जंग में नाको चने चबवा देने वाले परमवीर चक्र विजेता वीर अब्दुल हमीद की पत्नी रसूलन बीवी का निधन हो गया। रसूलन बीबी 95 वर्ष की थीं और वह काफी लंबे समय से बीमार थीं। गाजीपुर के दुल्लहपुर थानाक्षेत्र के धामूपुर गांव में रसूलन बीवी ने अंतिम सांस ली।

गाजीपुर: पाकिस्तानी सेना को 1965 की जंग में नाको चने चबवा देने वाले परमवीर चक्र विजेता वीर अब्दुल हमीद की पत्नी रसूलन बीबी का निधन हो गया। रसूलन बीबी 95 वर्ष की थीं और वह काफी लंबे समय से बीमार थीं। गाजीपुर के दुल्लहपुर थानाक्षेत्र के धामूपुर गांव में रसूलन बीबी ने अंतिम सांस ली। उनके निधन की खबर मिलते ही पूरे जिले में शोक की लहर दौड़ गई।

यह भी पढ़ें…J&K : इस खतरनाक हथियार के मिलने से मचा हड़कंप, तुरंत रोकी गई अमरनाथ यात्रा

वीर अब्दुल हमीद की पत्नी रसूलन बीबी की मौत की खबर सुनते ही उनको श्रद्धांजलि देने वालों की लाइन लग गई। बता दें कि अब्दुल हमीद गाजीपुर जिले में ही पैदा हुए थे। 1965 में पाकिस्तान की सेना को उन्होंने नाको चने चबवाया था। पाकिस्तान के पैटन टैंकों से लोहा लेने वाले अब्दुल हमीद ने 1962 में चीन की जंग में अपनी ताकत दिखाई थी।चीन की जंग में उनको सेना मेडल मिला था। वहीं, पाकिस्तान की जंग में अब्दुल हमीद को परमवीर चक्र से सम्मानित किया गया था।

यह भी पढ़ें…हाई अलर्ट! J&K में बड़ा हमला कर सकते हैं आतंकी, प्रशासन ने कहा- लौट जाएं सैलानी

रसूलन बीबी के निधन की खबर मिलने के बाद सीएम योगी आदित्यनाथ ने गहरा दुख व्यक्त किया है। सीएम योगी ने कहा, ‘रसूलन बीबी का जीवन प्रेरणादायी है। देश की गंगा-जमुनी तहजीब को जीवित रखते हुए वीर अब्‍दुल हमीद की स्‍मृतियों को सहेजने में उनका विशेष योगदान है।’