पैसे के अभाव में मरीज को फेंका अस्पताल के बाहर, हुई मौत, CCTV से खुलासा

उत्तर प्रदेश के कानपुर जिले के कल्याणपुर थानाक्षेत्र में एक सरकारी अस्पताल के बाहर युवक का शव मिलने से सनसनी फैल गई। सूचना पर पहुंची पुलिस ने जांच की तो मृतक की जेब से निकले निजी अस्पताल का पर्चा व हाथ में विगो लगा मिला।

प्रतीकात्मक फोटो

प्रतीकात्मक फोटो

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के कानपुर जिले के कल्याणपुर थानाक्षेत्र में एक सरकारी अस्पताल के बाहर युवक का शव मिलने से सनसनी फैल गई। सूचना पर पहुंची पुलिस ने जांच की तो मृतक की जेब से निकले निजी अस्पताल का पर्चा व हाथ में विगो लगा मिला। पर्चे के आधार पर पुलिस ने अस्पताल का सीसीटीवी खंगाला तो चार युवक मृतक को ले जाते मिले हैं, इनमें एक अस्पताल का वार्ड ब्वॉय है। परिजनों से पूछताछ व अस्पताल की भूमिका को लेकर पुलिस ने जांच शुरु कर दी है।

 

यह भी पढ़ें…जगद्गुरु स्वामी सत्यमित्रानंद महराज को श्रद्धांजलि देने हरिद्वार जायेंगे CM योगी

कल्याणपुर के बारासिरोही स्थित सरकारी अस्पताल के बाहर मंगलवार को एक युवक का शव देख स्थानीय लोग घबरा गये। सूचना पर क्षेत्राधिकारी अजय कुमार, इंस्पेक्टर अश्वनी पांडेय पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे। जांच पड़ताल में मृतक के हाथ में इलाज के दौरान लगने वाला विगो व जेब से सामने स्थित प्राइवेट जाहनवी हॉस्पिटल का पर्चा निकला। पर्चा मिलने पर मृतक की शिनाख्त कानपुर देहात के शिवली स्थित गोखला गांव निवासी राम खिलावन (42) के रुप में हुई। बरामद पर्चे के आधार पर पुलिस ने निजी अस्पताल में जांच करने पहुंची और मृतक को लेकर पूछताछ की।

जिस पर अस्पताल प्रशासन की गुमराह करने वाली बातें सामने आई जिस पर सीओ ने सीसीटीवी कैमरे की जांच की और फुटेज खंगाले। फुटेज में अस्पताल से चार लोग देर रात युवक को बाहर ले जाते हुए दिखें। इनमें एक वार्ड ब्वॉय भी शामिल था। फुटैज सामने आने पर पुलिस ने सख्ती से अस्पताल प्रशासन से पूछताछ की। जिस पर बचाव करते हुए बताया गया कि युवक के पास पैसे न होने पर उसे सरकारी अस्पताल लेकर भर्ती कराने गये थे, लेकिन किसी के न मिलने पर उसे वहां छोड़कर चले आये थे। उसकी मौत कैसे हो गई, इसकी जानकारी नहीं।

यह भी पढ़ें…जागते रहो! चैन से सो रहे हैं तो जाग जाईये, यूपी पुलिस का ये सायरन सोने नहीं देगा

क्षेत्राधिकारी कल्याणपुर ने बताया कि मृतक के परिजनों से मोबाइल पर सम्पर्क किया गया। जिसमें जानकारी मिली है कि पत्नी मायके में और मृतक मोटर साइकिल से अस्पताल में भर्ती कहने की बात कर निकला था। उसके पास से मोटर साइकिल की चॉबी भी निकली है और जाहनवी अस्पताल का पर्चा मिला है। निजी अस्पताल की भूमिका संदिग्ध है और इसकी जांच की जा रही है। दोषी पाये जाने पर अस्पताल के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। फिलहाल शव को पोस्टमार्टम भेजते हुए पूरे प्रकरण को जांच कराई जा रही है।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App