Top

माँ-बेटी की दर्दनाक मौत: लाशें देख कांप उठा हर कोई, पीलीभीत बस्ती मार्ग की घटना

पीलीभीत बस्ती मार्ग पर चौकी खमरिया क्षेत्र के महरिया गांव के पास तेज रफ्तार अज्ञात ट्रक ने हाइवे किनारे गांव से दवा लेकर घर जा रही माँ समेत उसकी गोदी में एक माह की मासूम बच्ची को रौंद दिया। जिससे दोनों की मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई।

Vidushi Mishra

Vidushi MishraBy Vidushi Mishra

Published on 20 Feb 2021 11:04 AM GMT

माँ-बेटी की दर्दनाक मौत: लाशें देख कांप उठा हर कोई, पीलीभीत बस्ती मार्ग की घटना
X
महरिया गांव के पास तेज रफ्तार अज्ञात ट्रक ने हाइवे किनारे गांव से दवा लेकर घर जा रही माँ समेत उसकी गोदी में एक माह की मासूम बच्ची को रौंद दिया।
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखीमपुर खीरी। पीलीभीत बस्ती मार्ग पर चौकी खमरिया क्षेत्र के महरिया गांव के पास तेज रफ्तार अज्ञात ट्रक ने हाइवे किनारे गांव से दवा लेकर घर जा रही माँ समेत उसकी गोदी में एक माह की मासूम बच्ची को रौंद दिया। जिससे दोनों की मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई। सूचना पाकर पहुचीं पुलिस ने दोनों शवों को कब्जे में लेकर पीएम के लिए भेज दिया। शुक्रवार को देर रात राजेन्द्र कुमार गौतम पुत्र हीरालाल निवासी गौर चौखड़िया थाना तंबौर जनपद सीतापुर अपनी पत्नी सुशीला देवी समेत बहन गुड़िया देवी चचेरे भाई पवन पुत्र शम्भू के साथ दो अलग अलग साइकिलों पर सवार होकर अपने एक माह के जुड़वा बच्चों की दवा लेने हाइवे किनारे स्थित गांव जसवंतनगर गए हुए थे।

ये भी पढ़ें...किसान पिता-बेटे ने की आत्महत्या: पंजाब-मोदी सरकार जिम्मेदार, लिखा सुसाइड नोट

साइकिल में टक्कर मार दी

रात करीब 11 बजे दवा लेकर वापस घर जाते समय चौकी खमरिया क्षेत्र के महरिया गांव के पास सड़क पार करने लगे उसी समय सामने से आ रही तेजगति अज्ञात ट्रक ने पवन की साइकिल में टक्कर मार दी।

टक्कर लगते ही पवन की साइकिल पर पीछे बैठी सुशीला देवी अपने गोदी में लिए एक मासूम बच्चे के साथ बीच सड़क पर गिरकर ट्रक के नीचे आ गई। जिन्हें ट्रक के रौंद दिया। जिसमें माँ सुशीला देवी सहित उसके मासूम बच्चे की मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई।

road accident फोटो-सोशल मीडिया

ये भी पढ़ें...गोरखनाथ मंदिर पहुंचे ओम बिड़ला, डीजल-पेट्रोल की महंगाई पर कही ये बात

गुड़िया देवी की चीखपुकार

इधर पति राजेन्द्र व उसके चचेरे भाई पवन एवं एक बच्चे को गोदी में लिए उसकी बहन गुड़िया देवी की चीखपुकार सुनकर पडोस के घरों से निकले लोगों ने पुलिस को सूचना दी। सूचना पाकर मौके पर पहुचें ईसानगर प्रभारी निरीक्षक हरिओम श्रीवास्तव,पीआरवी 2894 समेत खमरिया पुलिस ने दोनों के शवों को कब्जे में लेकर पीएम के लिए भेज दिया।

इस दौरान पुलिस ने हादसे को अंजाम देने वाले ट्रक की खोजबीन करवाई पर पता नहीं चल सका। वहीं हादसा होने के बाद पुलिस के पहुचने तक हाइवे पर वाहनों का आना जाना दोनों तरफ से बंद हो गया जिससे काफ़ी दूर तक जाम लगी रही। वहीं घटना की सूचना पाकर सुशीला देवी की ससुराल सहित मायके में मातम छा गया।

ये भी पढ़ें...मौत का खूनी खेल: गला रेत डाला पत्नी-बेटियों का, फिर आग लगाकर ठोंका सिर

Vidushi Mishra

Vidushi Mishra

Desk Editor

Next Story