रेमन मैग्सेसे विजेता को पुलिस ने किया गिरफ्तार, जानिए पूरा मामला

सीएए के खिलाफ आंदोलन के चलते रेमन मैग्सेसे पुरस्कार विजेता संदीप पांडेय को लखनऊ पुलिस ने गिरफ्तार किया है। संदीप के साथ नौ और लोगों को भी पुलिस ने…

Published by Deepak Raj Published: February 17, 2020 | 8:17 pm
Modified: February 17, 2020 | 8:19 pm

लखनऊ।  सीएए के खिलाफ आंदोलन के चलते रेमन मैग्सेसे पुरस्कार विजेता संदीप पांडेय को लखनऊ पुलिस ने गिरफ्तार किया है। संदीप के साथ नौ और लोगों को भी पुलिस ने गिरफ्तार किया। इन सभी लोगों को ठाकुरगंज थाने लाया गया है। बताया जा रहा है कि संदीप पांडेय अपने साथियों के साथ घंटाघर के आसपास के लोगों के बीच एक पर्चा बांट रहे थे।

ये भी पढ़ें- असहमति व विरोध से भाजपा सरकार को है खास एलर्जी: अखिलेश यादव

बताया जाता है कि सभी की तैयारी घंटाघर से उजरियांव तक पैदल मार्च निकालने की भी थी, तभी ठाकुरगंज की पुलिस वहां पहुंची और सभी लोगों को लेकर थाने चली गई। एक नीजी समाचार चैनल से बातचीत के दौरान ठाकुरगंज के एसएचओ प्रमोद कुमार मिश्रा ने बताया कि उनकी टेक्निकल अरेस्टिंग की गई है।

एसएचओ ने  बताया कि सभी लोगों का मेडिकल परीक्षण कराया जा रहा है

उनके साथ बाकी लोगों की भी टेक्निकल अरेस्टिंग की गई है। इन सभी को धारा 151 के तहत गिरफ्तार किया गया है। बता दें कि धारा 151 शांति भंग की आशंका के चलते लगाई जाती है। एसएचओ ने ये भी बताया कि सभी लोगों का मेडिकल परीक्षण कराया जा रहा है।

एक महीने से लखनऊ में चल रहा आंदोलन

बता दें कि सीएए के खिलाफ लखनऊ के चौक इलाके के घंटाघर पर पिछले एक महीने से आंदोलन चल रहा है। शहर के उजरियांव इलाके में एक दूसरा प्रदर्शन चल रहा है। संदीप अपने साथियों के साथ घंटाघर से उजरियांव तक पैदल मार्च निकालना चाहते थे लेकिन, इसी बीच पुलिस ने उन्हें पकड़ लिया।

ये भी पढ़ें-प्रमोद तिवारी व आराधना का बड़ा बयान, CAA भाजपा सरकार के लिए हिमायलन ब्लंडर

ठाकुरगंज के एसएचओ ने बताया कि उन्हें जल्द ही रिहा कर दिया जाएगा। बता दें कि संदीप पांडेय लम्बे समय से सीएए के विरोध में खड़े हैं और देशभर में ऐसे आंदोलनों में बोलने के लिए भी जाते रहे हैं।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App