Top

दरिंदा निकला भाई: बहन ने किया दुष्कर्म का विरोध, तो सुला दी मौत की नींद

प्रथम दृष्टया आनर किलिंग का मामला होने के चलते मृतका के माता-पिता व उनके सहयोगियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया। बाद में विवेचना के दौरान पाया गया कि उपासना के सगे चचेरे भाई राजेश व चंदन सिंह पहले से ही उस पर गंदी नजर रखते थे।

SK Gautam

SK GautamBy SK Gautam

Published on 13 Feb 2021 1:51 PM GMT

दरिंदा निकला भाई: बहन ने किया दुष्कर्म का विरोध, तो सुला दी मौत की नींद
X
दरिंदा निकला भाई: बहन ने किया दुष्कर्म का विरोध, तो सुला दी मौत की नींद
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

औरैया। कोतवाली बिधूना के ग्राम नरायणपुर भानू में छह फरवरी को संदिग्ध परिस्थितियों में एक किशोरी का शव फांसी के फंदे से लटकता मिला था। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में गला दबाकर हत्या किए जाने की पुष्टि हुई थी। पुलिस ने प्रथम दृष्टया आनर किलिंग का मामला मानते हुए मृतका के माता-पिता व उनके सहयोगियों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज किया था।

विवेचना के दौरान पता चला कि मृतका के सगे भाई ने उसके साथ दुष्कर्म किए जाने का प्रयास किया था। विरोध करने पर किशोरी की गला दबाकर हत्या कर दी गई। आरोपित के नाबालिग होने के कारण उसे बाल सुधार गृह भेजा गया है।

16 वर्षीय युवती की आत्महत्या की खबर निकली झूठ

शनिवार को कोतवाली सदर में वार्ता के दौरान एसपी अपर्णा गौतम ने बताया कि ग्राम नरायणपुर भानू निवासी अहिवरन सिंह की 16 वर्षीय पुत्री उपासना द्वारा आत्महत्या किए जाने की सूचना दी गई थी। जिसके आधार पर पुलिस ने मृतका का पोस्टमार्टम वीडियोग्राफी व चिकित्सक पैनल द्वारा कराया गया था। रिपोर्ट में गला दबाकर हत्या किए जाने की पुष्टि हुई थी।

[video width="640" height="352" mp4="https://newstrack.com/wp-content/uploads/2021/02/VID-20210213-WA0184-1.mp4"][/video]

ये भी देखें: Valentine’s Special: नाक पोछने से आंसू पोछने तक दिया साथ, ऐसा है हमसफर मेरा

मामले की विवेचना उपनिरीक्षक योगेंद्र सिंह की ओर से की गई। प्रथम दृष्टया आनर किलिंग का मामला होने के चलते मृतका के माता-पिता व उनके सहयोगियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया। बाद में विवेचना के दौरान पाया गया कि उपासना के सगे चचेरे भाई राजेश व चंदन सिंह पहले से ही उस पर गंदी नजर रखते थे।

माता-पिता खेत पर काम करने गए हुए थे तब हुई घटना

एसपी ने बताया कि घटना के समय मृतका के माता-पिता खेत पर काम करने गए हुए थे। उपासना को घर में अकेला पाकर राजेश पुत्र चंदन जीने के रास्ते से घर में घुस आया और उपासना के साथ दुष्कर्म करने की नीयत से कमरे में आ गया और जबरदस्ती करने लगा। जब उसने विरोध किया और अपने माता-पिता से शिकायत किए जाने की बात कही। इस पर आरोपित ने भय के कारण गला दबाकर हत्या कर दी थी।

ये भी देखें: वैलेंटाइन डे से पहले हिन्दू महासभा का ऐलान- कल पार्कों में अश्लीलता नहीं करेंगे बर्दाश्त

आरोपित ने अपने बचाव में हत्या को फांसी लगाकर आत्महत्या का रूप देने के उद्देश्य से यह बात स्वजन व गांव वालों को बताई थी। इसी के चलते मृतका के पिता द्वारा फांसी लगाकर आत्महत्या किए जाने की तहरीर दी गई थी। पुलिस ने पकड़े गए नाबालिग युवक को बाल सुधार गृह भेज दिया गया है।

रिपोर्टर- प्रवेश चतुर्वेदी, औरैया

SK Gautam

SK Gautam

Next Story