Top

सीतापुर: सम्पूर्ण समाधान दिवस का आयोजन, DM ने अधिकारियों को दिए ये निर्देश

सम्पूर्ण समाधान दिवस के दौरान जिलाधिकारी ने सभी विभागाध्यक्षों और अधिकारियों को निर्देश दिये कि लाभार्थीपरक योजनाओं से संबंधित प्रकरणों का तेजी से निस्तारण किया जाये, जिससे पात्रों को समय से लाभान्वित किया जा सके।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumarBy Dharmendra kumar

Published on 19 Jan 2021 6:26 PM GMT

सीतापुर: सम्पूर्ण समाधान दिवस का आयोजन, DM ने अधिकारियों को दिए ये निर्देश
X
तहसील महमूदाबाद में जिलाधिकारी विशाल भारद्वाज एवं पुलिस अधीक्षक आर पी सिंह की अध्यक्षता में सम्पूर्ण समाधान दिवस का आयोजन किया गया।
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

सीतापुर: जनता की शिकायतों एवं समस्याओं को पूर्ण गुणवत्ता के साथ निस्तारित करने के उद्देश्य से जनपद की सभी सात तहसीलों में मंगलवार को सम्पूर्ण समाधान दिवस आयोजित किया गया। तहसील महमूदाबाद में जिलाधिकारी विशाल भारद्वाज एवं पुलिस अधीक्षक आर पी सिंह की अध्यक्षता में सम्पूर्ण समाधान दिवस का आयोजन किया गया। जिलाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक ने आये हुये शिकायतकर्ताओं को एक-एक करके सुना एवं उनकी शिकायतों एवं समस्याओं को समयान्तर्गत गुणवत्तापूर्ण निस्तारण सुनिश्चित करने के निर्देश के साथ संबंधित अधिकारियों को अन्तरित किया।

सम्पूर्ण समाधान दिवस के दौरान जिलाधिकारी ने सभी विभागाध्यक्षों और अधिकारियों को निर्देश दिये कि लाभार्थीपरक योजनाओं से संबंधित प्रकरणों का तेजी से निस्तारण किया जाये, जिससे पात्रों को समय से लाभान्वित किया जा सके। आईजीआरएस पोर्टल, ऑनलाइन संदर्भ, मा. मुख्यमंत्री हेल्पलाइन संदर्भ एवं अन्य सभी माध्यमों से प्राप्त शिकायतों का समयबद्ध एवं गुणवत्तापूर्ण निस्तारण सुनिश्चित किया जाय।

शिकायतकर्ता द्वारा जो शिकायत की गई हैं उसका निस्तारण संबंधित अधिकारी मौके पर पहुंचकर गुणवत्ता पूर्ण करें। सभी अधिकारी अपने कार्य को पूरी तत्परता, गुणवत्ता के साथ निर्धारित समयावधि में पूर्ण करें। शिकायतकर्ता की शिकायत का समाधान मौके पर ही हो जाना चाहिए। जिलाधिकारी ने स्पष्ट कहा कि निस्तारण से शिकायकर्ता को अवगत कराते हुये उसका फीडबैक अवश्य लिया जाय। यदि शिकायतकर्ता निस्तारण से असंतुष्ट हो तो पुनः परीक्षण अवश्य कराया जाय। जांच अधिकारी मौके पर अवश्य जाय तथा विभागाध्यक्ष अथवा कार्यालयाध्यक्ष भी शिकायतकर्ता से वार्ता करके फीडबैक प्राप्त करें।

ये भी पढ़ें…किसानों को काशी के सैंड आर्टिस्टों का साथ, कृषि बिल का ऐसे किया विरोध

निर्माण कार्यों से सम्बंधित सभी विभाग नियमित रूप से निर्माण कार्यों का स्थलीय निरीक्षण करते हुये यह सुनिश्चित करें कि कार्य पूरी गुणवत्ता के साथ समयबद्ध रूप से पूर्ण हों। नलकूप विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये कि सभी ट्यूटबेल क्रियाशील रहें, यह सुनिश्चित किया जाय। सिंचाई विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये कि नहरों में टेलो तक पानी निर्धारित रोस्टर के अनुसार पहुचे तथा कटान की समस्या का तत्काल निस्तारण किया जाये।

कृषि विभाग के अधिकारियों को यह सुनिश्चित करने के निर्देश दिये कि किसानों को कृषि के लिये आवश्यक खाद, बीज इत्यादि की पर्याप्त उपलब्धता रहे एवं किसानों की समस्याओं का तत्परता के साथ निस्तारण किया जाय। पंचायत चुनाव के दृष्टिगत पुलिस, राजस्व एवं अन्य संबंधित विभागों के अधिकारियों को पर्याप्त सतर्कता बरतते हुये आवश्यक कार्यवाही समय से सुनिश्चित करने के निर्देश दिये। सम्पूर्ण समाधान दिवस के दौरान मुख्य रूप से राजस्व, पुलिस, कृषि, पूर्ति विभाग आदि विभागों से सम्बंधित शिकायतें प्राप्त हुयी।

ये भी पढ़ें…छात्र का अपहरण: बदमाशों ने मांगी 70 लाख फिरौती, गोंडा पुलिस में मचा हड़कंप

सम्पूर्ण समाधान दिवस के दौरान पुलिस अधीक्षक आर0 पी0 सिंह ने पुलिस विभाग से संबंधित शिकायतों को सुनकर उनके प्रभावी निस्तारण के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिये। सम्पूर्ण समाधान दिवस के दौरान मुख्य विकास अधिकारी संदीप कुमार, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ मधु गैरोला, उपजिलाधिकारी महमूदाबाद पी.एल.मौर्य, पुलिस क्षेत्राधिकारी , तहसीलदार, सहित संबंधित विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।

ये भी पढ़ें…वाराणसी: मुस्लिम युवती इकरा ने पेश की मिसाल, राम मंदिर निर्माण के लिए किया दान

तहसील महमूदाबाद में सम्पूर्ण समाधान दिवस के अवसर पर कुल 264 शिकायतों में से 28 का निस्तारण मौके पर ही कर दिया गया। इसी प्रकार से जनपद की अन्य तहसीलों में आयोजित सम्पूर्ण समाधान दिवस में तहसील लहरपुर में प्राप्त 39 प्रार्थना पत्रों में से 2, तहसील सदर में प्राप्त 49 प्रार्थना पत्रों में से 3, तहसील सिधौली में प्राप्त 74 प्रार्थना पत्रों में से 5, तहसील मिश्रिख में प्राप्त 52 प्रार्थना पत्रों में से 6, तहसील महोली में प्राप्त 21 प्रार्थना पत्रों में से 5, तहसील बिसवां में प्राप्त 50 प्रार्थना-पत्रों में से 2 शिकायतों का निस्तारण मौके पर ही कर दिया गया। शेष बची हुयी शिकायतों को पृष्ठांकित कर एक सप्ताह के अन्दर संबंधित अधिकारी को निस्तारित करने के निर्देश दिये गये।

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumar

Next Story