अलीगढ़ और हाथरस में भीम आर्मी समर्थकों का प्रदर्शन, चंद्रशेखर की पीड़िता से हुई मुलाकात

हाथरस गैंगरेप मामले में रविवार को भीम आर्मी समर्थकों ने सडक पर उतरकर प्रदर्शन‍ किया। भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर आजाद उर्फ रावण ने अलीगढ़ मेडिकल कॉलेज में पहुंचकर पीड़िता से मुलाकात की है।

Chandrashekhar Azad Ravan

अलीगढ़ और हाथरस में भीम आर्मी समर्थकों का प्रदर्शन, चंद्रशेखर की पीड़िता से हुई मुलाकात (social media)

लखनऊ: हाथरस गैंगरेप मामले में रविवार को भीम आर्मी समर्थकों ने सडक पर उतरकर प्रदर्शन‍ किया। भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर आजाद उर्फ रावण ने अलीगढ़ मेडिकल कॉलेज में पहुंचकर पीड़िता से मुलाकात की है। चंद्रशेखर को रोकने के लिए जिला प्रशासन ने अलीगढ़ को आने वाले सभी रास्‍तों पर बड़ी तादाद में पुलिस तैनात कर रखी है। गभाना स्थित टोल नाके पर समर्थकों ने प्रदर्शन भी किया है।

ये भी पढ़ें:नायरा बनर्जी की बोल्ड तस्वीरें वायरल, Excuse Me Maadam में दिखा एक्टिंग का हुनर

भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर आजाद अलीगढ़ के अस्‍पताल में भर्ती पीड़िता से मिलने के लिए पहुंच गए हैं

हाथरस में गैंग रेप की शिकार युवती के साथ जानलेवा मारपीट और दबंगों की ओर लगातार धमकी दिए जाने की बातें सामने आ रही हैं। इस बीच भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर आजाद रविवार की दोपहर बाद लगभग साढे चार बजे अलीगढ़ के अस्‍पताल में भर्ती पीड़िता से मिलने के लिए पहुंच गए हैं। अस्‍पताल गेट पर वह अकेले पहुंचे। वहां मौजूद उनके समर्थकों ने नारे भी लगाए तो पुलिस ने उन्‍हें रोक दिया और चंद्रशेखर को अकेले जाकर पीड़िता से मिलने की अनुमति दे दी है।

दूसरी ओर भीम आर्मी समर्थकों ने हाथरस रोड पर चंदप्‍पा और गाजियाबाद रोड पर स्थित गभाना टोल नाके पर पहुंचकर प्रदर्शन किया है। बड़ी तादाद में एकत्र पार्टी समर्थकों ने पुलिस व जिला प्रशासन के खिलाफ नारे भी लगाए। हाथ में बैनर व पर्चियां लेकर प्रदर्शन कर रहे कार्यकर्ताओं की पुलिसकर्मियों से नोक-झोक भी हुई। बाद में पुलिस ने सभी से ज्ञापन लेकर उन्‍हें हाइवे से हटा दिया है।

अलीगढ़ में गरमाई राजनीति

हाथरस में गैंगरेप शिकार हुई युवती का इलाज मेडिकल कॉलेज में हो रहा है। उसकी हालत गंभीर बनी हुई है। बसपा सुप्रीमो मायावती ने भी रविवार की सुबह इस पूरी घटना की निंदा सोशल मीडिया पर की है और सरकार से कड़े कदम उठाने की मांग की है। दूसरी ओर भीम आर्मी के समर्थक सड़क पर उतर आए हैं। आम आदमी पार्टी और कांग्रेस के नेताओं ने भी इस मामले में जिला प्रशासन के अधिकारियों को ज्ञापन सौंपा है।

ये भी पढ़ें:जवानों से कांपे आतंकी: भारत में की घुसपैठ की कोशिश, सैनिकों ने भगाया

पुलिस का दावा है कि सभी चार आरोपितों को पकड़ लिया गया है लेकिन पीड़ित परिवार ने रविवार की दोपहर आरोप लगाया है कि दबंगों की ओर से उन्‍हें धमकी दी जा रही है। पूरे परिवार को जान का खतरा बना हुआ है। भीम आर्मी के प्रवक्‍ता कुश अंबेडकरवादी ने कहा है कि पीड़ित परिवार को अब तक मुआवजा भी नहीं दिया गया। आरोपितों पर कड़ी कानूनी कार्रवाई होनी चाहिए। उन्‍होंने कहा कि अगर सरकार की ओर से पीड़ित परिवार को सुरक्षा नहीं दी जाती है और परिवार को भीम आर्मी के युवा साथी सुरक्षा मुहैया कराएंगे।

अखिलेश तिवारी

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App