यूपी के इस वीवीआईपी जिले में जानवरों को मिला स्कूल में दाखिला, बच्चे बाहर  

सैकड़ों की संख्या में एकत्र इन छुट्टा गौवंशो को गौर से देखिए ये कही तबेले व गौशालाओं में नही बल्कि एक प्राथमिक विद्यालय में है। इनको यहां किसी और ने नही बल्कि उन नाराज किसानों ने पहुंचाया  और बंधक बनाया जो अपने फसलें नष्ट होने से परेशान चल रहे थे।

रायबरेली: सोनिया गांधी के संसदीय क्षेत्र रायबरेली में आज प्रदेश सरकार की पोल खोलती हुई तस्वीर सामने आई है। यहां छुट्टा जानवरो से खेत मे किसानों की फसले चौपट हो रही थी, जिससे त्रस्त  होकर  किसानों ने आज रायबरेली जिले के हरचंदपुर ब्लाक के प्यारेपुर प्राथमिक विद्यालय में सैकड़ों छुट्टा जानवरों को बंधक बना लिया। किसानों ने स्कूल के गेट में ताला बंद कर दिया जिससे पढ़ने आये छात्रों  को बिना पढ़ाई के ही घर वापस लौटना पड़ा।

ये भी देखें : विश्व का ये सफल बिजनेसमैन अब स्पेस में कर रहा है फैक्ट्रियां लगाने की तैयारी

स्कूल के अंदर गौवंश है और गेट के बाहर छात्र

सैकड़ों की संख्या में एकत्र इन छुट्टा गौवंशो को गौर से देखिए ये कही तबेले व गौशालाओं में नही बल्कि एक प्राथमिक विद्यालय में है। इनको यहां किसी और ने नही बल्कि उन नाराज किसानों ने पहुंचाया  और बंधक बनाया जो अपने फसलें नष्ट होने से परेशान चल रहे थे।

अब दूसरी तस्वीर देखिए स्कूल के अंदर गौवंश है और गेट के बाहर छात्र पढ़ाई के लिए पहुचे पर ग्रामीणों के आक्रोश को देखते हुए सभी छात्र अपने अपने घर बिना पढ़ाई किये ही वापस लौट गए।

ग्रामीणों की माने तो सरकार द्वारा इन छुट्टा गौवंशो को लेकर कोई प्रबंध नही किया गया जिससे ये फसलों को नष्ट कर रहे है और जो भी गौशालाएं बनवाई गई है उनमें चारे का अभाव रहता है। इस सबसे आजिज आकर हम लोगों ने विद्यालय परिसर में इन छुट्टा गौवंशो को बंधक बना रखा है।

ये भी देखें : कई बीमारियों के इलाज में कारगर है गेहूं, यहां जानें इसके औषधीय गुणों के बारे में

वही विद्यालय में पढ़ाने आई शिक्षिका की माने तो जब वह विद्यालय पहुंची तो विद्यालय में सैकड़ो जानवर अंदर बंद थे और बच्चे गेट के बाहर खड़े थे जिस पर हमने पुलिस के साथ-साथ उच्चाधिकारियों को भी सूचना दे दी।

गौवंशो की वजह से आज पढ़ाई बाधित रही। इस पूरे मामले में जब जिलाधिकारी नेहा शर्मा से बात की गई तो उन्होंने कहा कि यह सब काम आराजक तत्वों का है।

मौके पर अधिकारियों को भेजा गया है जो भी शरारती तत्वों ने ऐसा किया है उनके खिलाफ कार्यवाही की जाएगी।