सड़क हादसे में एक ही परिवार के चार लोगों की मौत

सड़क हादसे एक ही परिवार के चार लोगों की मौत

सड़क हादसे एक ही परिवार के चार लोगों की मौत

लखनऊ: रायबरेली राष्ट्रीय राजमार्ग पर जौनपुर के सिकरारा थानाक्षेत्र के समाधगंज बाजार के समीप कुरनीडीह गांव की मोड़ पर रविवार देररात एक कार अनियंत्रित होकर पुलिया की रेलिंग से टकरा गई। हादसे में कार सवार दंपति एवं बेटे समेत चार लोगों की मौत हो गई।

यह भी पढ़ें: गोविंद नगर विधानसभा उपचुनाव में कांग्रेस के लिए अखिलेश खेलेंगे ये बड़ा दांव

पुलिस के मुताबिक सभी मृतक एक ही परिवार के हैं और प्रयागराज जिले के निवासी हैं। नैनी थानाक्षेत्र के मामा-भांजी तालाब पावर हाउस कॉलोनी निवासी रामदास विश्वकर्मा(70), पत्नी पद्मा देवी(65), पुत्र राजेश(45) एवं छोटे भाई राम सवलिया विश्वकर्मा(63) के साथ अपने पैतृक गांव ब्रह्मपुर थाना चौरीचौरा, गोरखपुर से अपने कार से नैनी लौट रहे थे।

यह भी पढ़ें: ये साहब कानून से बचने के लिए NOC तो ले आए, फायर सिस्टम में बचाए पैसे, हादसा

रविवार देर रात करीब ढाई बजे उक्त स्थान पर उनकी कार अनियंत्रित होकर पुलिया की रेलिंग से टकरा गई। टक्कर इतनी जोरदार थी कि कार के परखचे उड़ गए। गश्त कर रहे यूपी-100 के पुलिसकर्मी मौके पर पहुंचे लेकिन तब तक कार सवार तीन लोगों की मौत हो चुकी थी, जबकि गाड़ी चला रहे राजेश विश्वकर्मा ने पुलिस द्वारा कार से निकालते वक्त दम तोड़ा। मौके पर पहुंचे थाने के एसआई अटल बिहारी मिश्रा ने शवों को पोस्टमार्टम के लिए मॉर्चरी हाउस भिजवा दिया।

यह भी पढ़ें: आगरा बस हादसे को लेकर सीएम योगी हुए सख्त, 24 घंटे में मांगी जांच की रिपोर्ट

घटना के संबंध में थानाध्यक्ष ने बताया कि सोमवार देररात दुर्घटना की सूचना पर पुलिस मौक़े पर पहुचीं और सभी को कार से बाहर निकाला, जिसमें तीन की मौत हो चुकी थी जबकि ड्राइवर की कार से बाहर निकालते ही मौत हो गई। कार में मिले मोबाइल फोन से पुलिस ने परिजनों को सूचना दी। सोमवार सुबह चचेरे भाई मुकेश के साथ सिकरारा थाने पर पहुंचे मृतक रामदास के छोटे पुत्र योगेंद्र विश्वकर्मा ने तहरीर दी। योगेंद्र ने बताया कि मेरा पैतृक गांव गोरखपुर है। खानदान में ही चाचा के लड़की में शामिल होने के बाद परिजन नैनी लौट रहे थे।