RSS प्रमुख ने गोरखपुर में फहराया तिरंगा, कहा- समाज का बदलेगा मन, फिर होगा…

आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने गोरखपुर के सूरजकुंड में गणतंत्र दिवस पर राष्ट्रीय ध्वज फहराया। राष्ट्र गान के बाद भारत माता के चित्र पर पुष्पांजलि की।  इस मौके पर आरएसएस प्रमुख मोहन भागव ने कहा कि समाज को एक साथ लेकर गांव-गांव जाकर भारतीय जीवन मूल्यों के प्रकाश में इस प्रकार के वातावरण का निर्माण करना चाहिए,

गोरखपुर: आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने गोरखपुर के सूरजकुंड में गणतंत्र दिवस पर राष्ट्रीय ध्वज फहराया। राष्ट्र गान के बाद भारत माता के चित्र पर पुष्पांजलि की।  इस मौके पर आरएसएस प्रमुख मोहन भागव ने कहा कि समाज को एक साथ लेकर गांव-गांव जाकर भारतीय जीवन मूल्यों के प्रकाश में इस प्रकार के वातावरण का निर्माण करना चाहिए, जिससे समाज के सज्जन लोग समाज परिवर्तन हेतु चल रही गतिविधियों के साथ जुड़ते चले जाएं।

 

यह पढ़ें…घंटाघर के सामने CAA और NCR बिल का विरोध कर रहे समर्थकों ने किया झंडा रोहण

 

 

भागवत ने कहा कि बिना किसी प्रचार और शासन सत्ता के सहयोग से सहज रीति से कार्यकर्ता उनके साथ मिलकर यथाशीघ्र परिवर्तन का प्रकट रूप खड़ा करें। पूरा समाज सभी प्रकार के आपसी भेदभाव को भूलकर, समाज को सभी विकारों से मुक्त होकर समरस भाव से खड़ा हो। समाज का मन बदलना चाहिए। सामाजिक अहंकार और हीनभाव दोनों समाप्त होने चाहिए।

 

यह पढ़ें…‘मन की बात’ कार्यक्रम में बदलाव, PM मोदी साल 2020 में पहली बार करेंगे संबोधित

 

संघ प्रमुख ने कहा कि पर्यावरण के असंतुलन और उसके दुष्प्रभावों से समाज को बचाने के लिए वृक्षारोपण, जल संरक्षण और प्लास्टिक मुक्त समाज के लिए समाज का प्रबोधन एवं प्रशिक्षण करने के लिए आग्रह किया। येभी कहा कि  संघ के प्रयासों से आज देश में जैविक खेती को प्रोत्साहित किया जा रहा है। जैसे हम आदर्श जीवन में यम-नियम का पालन करते हैं। उसी प्रकार आदर्श और उन्नत खेती के लिए पांच नियमों का पालन प्रारम्भ करना होगा।  उन्होंने कहा कि हमें भेदभाव को पूरी तरह हटाकर मिलजुल कर रहना होगा, तभी वास्तविक विकास होगा।