सीतापुर: धान क्रय केंद्रों पर भ्रष्टाचार, नोडल अधिकारी ने दिए FIR के आदेश

क्रय केंद्र पर अनियमिता की शिकायत पर उपजिलाधिकारी बिसवां को जांच कर दोषी के विरूद्ध एफआईआर दर्ज कराए जाने के भी निर्देश दिये। साथ ही संबंधित राइस मिलों की नियमित चेकिंग किये जाने के भी निर्देश दिये।

Published by Ashiki Patel Published: December 28, 2020 | 9:09 pm
sitapur

सीतापुर: धान क्रय केंद्रों पर भ्रष्टाचार, नोडल अधिकारी ने दिए FIR के आदेश

सीतापुर: धान क्रय केंद्रों पर भ्रष्टाचार की पोल एक बार फिर खुल गई। जिले की नोडल अधिकारी मिनिस्ती एस ने अपने भ्रमण के दूसरे दिन सोमवार को बिसवां मंडी स्थिति धान क्रय केंद्रों का निरीक्षण कर व्यवस्थाएं देखी। नोडल अधिकारी ने यहां तौल के कराने आये कृषकों से बात करके उनकी समस्याओं के विषय मे जानकारी ली। क्रय केंद्र पर अनियमिता की शिकायत पर उपजिलाधिकारी बिसवां को जांच कर दोषी के विरूद्ध एफआईआर दर्ज कराए जाने के भी निर्देश दिये। साथ ही संबंधित राइस मिलों की नियमित चेकिंग किये जाने के भी निर्देश दिये।

ये भी पढ़ें: सीतापुर:BJP MLA का आरोप, ODF का करोड़ों रुपए खा गए प्रधान और सरकारी कर्मी

नोडल अधिकारी ने स्पष्ट निर्देश दिये कि विक्रय हेतु धान लाने वाले कृषकों को समस्त जानकारी उपलब्ध करायी जाये तथा नमी इत्यादि की जाँच के विषय मे पूरी जानकारी दी जाय। साथ ही यह भी निर्देश दिये कि पूरा विवरण रजिस्टर में दर्ज कराने के बाद कृषक के हस्ताक्षर के साथ साथ एक गवाह के भी हस्ताक्षर कराये जाये। धान मूल्य के भुगतान की समीक्षा करते हुये शासनादेश के प्राविधानों के अनुसार भुगतान कराये जाने के निर्देश दिये। साथ ही निर्धारित समयावधि के बाद भुगतान लम्बित पाए जाने पर नाराजगी व्यक्त करते हुये तत्काल भुगतान सुनिश्चित करने के निर्देश दिये। मंडी सचिव को पर्यवेक्षण में सुधार करने के निर्देश दिये। निरीक्षण के दौरान जिला विकास अधिकारी राकेश कुमार पांडेय, उपजिलाधिकारी बिसवां सुरेश कुमार, डिप्टी आरएमओ अरविन्द कुमार दुबे सहित सम्बंधित अधिकारी उपस्थित रहे।

चैपाल लगाकर ग्रामीणों को दी योजनाओं की जानकारी

नोडल अधिकारी ने सकरन विकास खंड के ग्राम टेड़वा कला में आयोजित चैपाल के दौरान ग्रामीणों को शासन द्वारा संचालित विभिन्न योजनाओं के विषय में जानकारी दी। उन्होंने महिलाओं को प्रेरित किया कि स्वयं सहायता समूहों का गठन करके समूह के माध्यम से स्वयं सशक्त हों एवं स्वावलम्बी बनें। सरकार द्वारा भी इसमें अनेक प्रकार की सुविधाएं उपलब्ध करायी जा रही हैं। उन्होंने ग्रामीणों को कृषि विभाग द्वारा संचालित योजनाओं को विस्तारपूर्वक अवगत कराया।

ये भी पढ़ें: हैप्पी न्यू ईयर में ड्रोन से होगी निगरानी, हुड़दंग हुआ तो आयोजक होगें जिम्मेदार

मुख्य विकास अधिकारी संदीप कुमार एवं जिला विकास अधिकारी राकेश कुमार पांडेय ने भी विकास योजनाओं एवं लाभार्थीपरक योजनाओं की जानकारी दी। चैपाल के दौरान उपजिलाधिकारी बिसवां ने राजस्व विभाग द्वारा संचालित विभिन्न योजनाओं के विषय मे जानकारी दी तथा कृषक दुर्घटना बीमा योजना के विषय मे जानकारी दी। साथ ही निर्विवाद वरासत अभियान, स्वामित्व योजना आदि योजनाओं के विषय मे जानकारी दी। अधिशासी अभियंता सिंचाई ने सिंचाई विभाग द्वारा संचालित विभिन्न योजनाओं के विषय में जानकारी दी। इस दौरान खण्ड विकास अधिकारी सकरन, जिला अर्थ एवं संख्याधिकारी, जिला उद्यान अधिकारी, अधिशासी अभियन्ता सिंचाई सहित संबंधित अधिकारी उपस्थित रहे।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App