Top

राम मंदिर निर्माण: सीतापुर के लोगों ने खोल दी तिजोरियां, भर-भर के दे रहे दान

सीतापुर के दानवीरों ने अयोध्या में भव्य राम मंदिर निर्माण के लिये तिजोरियां खोल दी है। पन्द्रह जनवरी से शुरू हुए अभियान को व्यापक जनसमर्थन मिल रहा है। आराध्य देव प्रभु श्रीराम के लिये दोनो हाथो से जीवन की कमाई देने को लोग आतुर हो गये है।

Ashiki Patel

Ashiki PatelBy Ashiki Patel

Published on 28 Jan 2021 3:32 PM GMT

राम मंदिर निर्माण: सीतापुर के लोगों ने खोल दी तिजोरियां, भर-भर के दे रहे दान
X
राम मंदिर निर्माण: सीतापुर के लोगों ने खोल दी तिजोरियां, भर-भर के दे रहे दान
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

सीतापुर: सीतापुर के दानवीरों ने अयोध्या में भव्य राम मंदिर निर्माण के लिये तिजोरियां खोल दी है। पन्द्रह जनवरी से शुरू हुए अभियान को व्यापक जनसमर्थन मिल रहा है। आराध्य देव प्रभु श्रीराम के लिये दोनो हाथो से जीवन की कमाई देने को लोग आतुर हो गये है। सीतापुर के बुजुर्गो की आंखो में भव्य राम मंदिर निर्माण की परिकल्पना अभी से तैरने लगी है।

मंदिर निर्माण के लिए खुल कर दान कर रहे लोग

मंदिर की भव्यता को लेकर तरह-तरह की चर्चाएं हो रही है, हर कोई चाह रहा है कि प्रभु राम के चरणों में उनका कुछ अंश भी न्यौछावर हो सके। समाज का हर तबका अयोध्या में मंदिर निर्माण को लेकर सजग दिख रहा है। बड़ी संख्या में लोग अभियान से जुड़े सदस्यो के पास जाकर सामथ्र्ययुक्त धन उपलब्ध करा रहे है। विशिष्ट जन सम्पर्क अभियान के तहत प्रबुध्द जनों के साथ व्यापारी, चिकित्सक, अधिवक्ता, नवयुवक के अतिरिक्त बुजुर्गों ने परिवार के साथ मन्दिर निर्माण के लिये सहयोग देने में भरपूर रूचि दिखाई है, ऐसे लोग भी समर्पण के लिये बढ़-चढ़ कर अपना योगदान कर रहें हैं, जिन्होंने 80 और 90 के दशक में राम मंदिर आन्दोलन में महत्वपूर्ण भूमिका भी निभाई थी।

हर घर में जयश्रीराम के नारे लग रहे हैं

भगवान राम को अर्पित इस अभियान का आगाज भले ही सादे समारोह के साथ हुआ हो, पर अब सीतापुर में यह उत्सव का रूप लेने लगा है। हर घर में जयश्रीराम के नारे लग रहे है, लोग खुले दिल से अभियान से जुड़े सदस्यो के साथ संपर्क करने को तैयार हो रहे है। उत्साह, उमंग का अनूठा संगम सीतापुर में दिखायी देने लगा है।

ये भी पढ़ें: अयोध्या: क्रिकेट टूर्नामेंट का उद्घाटन करने पहुंचे MLA वेद प्रकाश गुप्ता, कही ये बातें

नैमिषारण्य, हरगांव, मिश्रिख, महोली, लहरपुर, सिधौली, बिसवां, रामपुर मथुरा इलाको में साधु, संत, महंत, पुरोहित अभियान में लगे सदस्यो के साथ टोली बना कर खुद घर-घर जा रहे है। सभी का सिर्फ एक ही सपना है कि अयोध्या में निर्मित होने वाले भव्य राम मंदिर की आलोकिक छटा से सम्पूर्ण विश्व प्रकाशवान हो सके। दानवीरो मे ऐसे लोग भी सामने आये है, जिनकी कुल सम्पत्ति से उनके जीवन का भरण पोषण भी कठिनाई से हो रहा है, फिर भी राम मंदिर निर्माण के लिये वह अपना सर्वस्व न्यौछावर करने के लिये तैयार है।

बाक्स

जीवन के 100 बसंत राम मंदिर को समर्पित

लहरपुर कस्बे के स्वामी दयाल पुरी ने जीवन के 100 बसंत राम मंदिर को समर्पित कर दिये हैं। वैज्ञानिक मतानुसार सम्पूर्ण जीवन व्यतीत कर चुके स्वामी दयाल के जीवन की अंतिम इच्छा सिर्फ अयोध्या में प्रभु श्रीराम के भव्य मंदिर जाकर उनके दर्शन करने की है। सुप्रीम कोर्ट से राम मंदिर मुद्दे पर आये फैसले के बाद स्वामी दयाल पुरी की इच्छा अब कुछ समय और तक जीवित रहने की है।

भावुक हृदय से वह कहते है कि किसी तरह मैं अपने जीवन में एक बार भगवान राम मंदिर के दर्शन कर लूॅ, भले ही वहीं मेरे प्राण ही क्यों न निकल जाये। स्वामी दयाल ने अपने जीवन में जोड़ी गयी एक लाख ग्यारह हजार रूपये की नगदी राम मंदिर निर्माण के लिये दान दी है। लहरपुर कस्बे के ही रामलाल रस्तोगी 87 वर्ष की उम्र में राम मंदिर का जिक्र आते ही जोश में आ जाते हैं, वे कहते हैं कि अपनी आंखों के सामने मंदिर बनते देख अपने को धन्य मानता हूॅ।

अभी भी कुछ करने का जज्बा

उम्र के आगे मजबूर रामलाल रस्तोगी अभी भी कुछ करने का जज्बा रखते है। मंदिर निर्माण के लिए उन्होंने भी एक लाख एक हजार का चेक अपने परिवार के साथ समर्पण निधि अभियान में लगे लोगों को सौंपा। लहरपुर के विशाल कपूर ने भी एक लाख 51 हजार रूपये मंदिर निर्माण के लिये दिये है। गुरूवार को सीतापुर नगर में प्रतिष्ठित व्यवसाई प्रहलाद महावर ने भी 111000 रूपये का योगदान दिया। शहर के ही प्रतिष्ठित व्यवसाई रामपति अग्रवाल ने भी अपने परिवार के साथ एक लाख बारह हजार रूपये की चेक मंदिर निर्माण के लिये दी है।

ये भी पढ़ें: UP: 5 फरवरी तक पूरा हो जाएगा मेडिकल कर्मियों के वैक्सीनेशन का काम

इसके अतिरिक्त सतीश जायसवाल ने 51 हजार, प्रमुख समाजसेवी विजय बंसल तथा नीरज जैन ने भी 51 हजार का सहयोग निधि समर्पण अभियान से जुड़े लोगो को प्रदान किया है। अभियान प्रमुख विपुल सिंह, सह अभियान प्रमुख महेश शर्मा, भंवर सिंह, राजेश शुक्ला ने बताया कि विशिष्ट जनों के सहयोग से सम्पर्क अभियान में सभी का भरपूर सहयोग मिल रहा है। लोग भगवान राम के मंदिर के लिये बढ़-चढ़ कर अपना योगदान कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि एक से 27 फरवरी तक दस, सौ और एक हजार रूपये के कूपन के साथ वृहद सम्पर्क अभियान चलाया जायेगा।

रिपोर्ट. पुतान सिंह, सीतापुर

Ashiki Patel

Ashiki Patel

Next Story