×

सोनिया गांधी के दौरे के दौरान हुआ ऐसा वाकया, प्रशासन के हाथ-पांव फुले

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी आज से अपने संसदीय क्षेत्र के दो दिवसीय दौरे पर हैं। उनके साथ उनकी बेटी एवं पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी और प्रदेश संगठन के...

Deepak Raj

Deepak RajBy Deepak Raj

Published on 22 Jan 2020 2:32 PM GMT

सोनिया गांधी के दौरे के दौरान हुआ ऐसा वाकया, प्रशासन के हाथ-पांव फुले
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

रायबरेली। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी आज से अपने संसदीय क्षेत्र के दो दिवसीय दौरे पर हैं। उनके साथ उनकी बेटी एवं पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी और प्रदेश संगठन के बड़े नेता मौजूद हैं।

ठीक उसी समय यहां सीएए और एनआरसी के विरोध में हिंदू-मुस्लिम दोनो समाज की महिलाएं शाहीन बाग की तर्ज पर गांधी गीरी पर उतर आई हैं। ऐसे मे जिला प्रशासन के हाथ पांव फूल गए हैं।

ये भी पढ़ें- मोदी कैबिनेट का बड़ा फैसला, ये सरकारी कंपनी होगी बंद, यहां भी लागू होगा GST

शहर कोतवाली क्षेत्र के तिलिया कोट पर हिंदू-मुस्लिम दोनो समुदाय की सैकड़ों महिलाएं शाहीन बाग की तर्ज पर हाथों में तख्तियां लेकर धरने पर बैठ गई हैं। धरने पर बैठी महिलाओ की मांग है की सीएए और एनआरसी सरकार तत्काल वापस ले । मांग न मानने पर धरना अनिश्चितकालीन जारी रहेगा।

मांग न मानने पर धरना अनिश्चितकालीन जारी रहेगा

ख़ास बात ये के महिलाओं ने हाथों मे जिन तख्तियों को ले रखा है उस पर लिखा है "हा से हिंदू म से मुसलमान और हमसे सारा हिंदुस्तान, इंकलाब जिंदाबाद। जमी पे बहते लहू का हिसाब चाहती हूं।

मैं अब गुलाब नही इंकलाब चाहती हूं, इंकलाब जिंदाबाद।" महत्वपूर्ण बात ये कि महिलाओं ने अपने प्रदर्शन मे शहीद भगत सिंह की तस्वीर को लगा रखा है।

प्रदर्शनकारी महिला ने कहा हम लोगों को सीएए से, एनआरसी से और एनपीआर से आजादी चाहिए। महिलाओं का ये भी कहना है के देश मे जो हिंदू मुस्लिम बंटवारे की राजनीति हो रही हम लोग उससे भी आजादी चाहते हैं।

ये भी पढ़ें- सीएए के विरोध में 29 जनवरी को भारत बंद बुलाया ये संगठन

क्योंकि हम लोग यहां मिल जुलकर रहते हैं, 'ईद और होली साथ मनाते हैं।' प्रदर्शनकारी महिलाओं ने ये भी कहा की मांगे नही पूरी हुई तो हम लोग यूएनए जाएंगे।

Deepak Raj

Deepak Raj

Next Story