एसपी ने महिला को अपनी गाड़ी से भिजवाया अस्पताल, पेश की मानवता की मिसाल

शुक्रवार शाम एसपी अंकित मित्तल चौकी भरतकूप एवं प्रस्तावित थाना स्थल का निरीक्षण कर वापस आ रहे थे कि तभी शिवरामपुर तिराहे के पास सड़क दुर्घटना में घायल महिला सड़क पर पड़ी हुई थी। पुलिस अधीक्षक ने मानवता की मिसाल पेश करते हुए तत्काल गाड़ी रुकवाकर घायल महिला को अपनी स्कोर्ट की गाड़ी से सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र शिवरामपुर भिजवाया। जहाँ पर उसका इलाज कराया गया।

चित्रकूट शुक्रवार शाम एसपी अंकित मित्तल चौकी भरतकूप एवं प्रस्तावित थाना स्थल का निरीक्षण कर वापस आ रहे थे कि तभी शिवरामपुर तिराहे के पास सड़क दुर्घटना में घायल महिला सड़क पर पड़ी हुई थी। पुलिस अधीक्षक ने मानवता की मिसाल पेश करते हुए तत्काल गाड़ी रुकवाकर घायल महिला को अपनी स्कोर्ट की गाड़ी से सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र शिवरामपुर भिजवाया। जहाँ पर उसका इलाज कराया गया।

यह पढ़ें…तेज रफ्तार ऑटो और बाइक की भिड़ंत मे महिला सहित तीन की मौत, चार घायल

घायल महिला का नाम कृष्णा पत्नी शनि कोल निवासी ओरनगोड़ा चौकी भरतकूप था जिसका रोड क्रॉस करते समय एक्सीडेंट हो गया था। एसपी अंकित मित्तल की इस मानवता वाले कार्य ने एकबार फिर खाकी प्रति लोगो मे सम्मान बढा दिया है ।

गौरतलब हो कि एसपी अंकित मित्तल अपने तेजर्रार और संवेदनशील स्वभाव हेतु जाने जाते हैं । जिले में जब से उनका आगमन हुआ है वो लगातार भृमण कर रहे हैं और दिनरात मेहनत कर रहे हैं । अचानक शाम को एसपी का काफिला किस थाने चल पड़े, ये उनके ड्राइवर तक को नही पता रहता ।

 

यह पढ़ें..शिक्षक बनने का शानदार मौका: जल्द करें आवेदन, कहीं मौका निकल न जाए

जनपद में लगातार सुरक्षा व्यवस्था को दुरुस्त करने हेतु एसपी अंकित मित्तल दिन और रात दोनो मेहनत कर रहे हैं।  उनका कहना है कि उनकी पहली प्राथमिकता जनता को भयमुक्त माहौल उपलब्ध कराना है जिससे हर कोई बेफिक्र होकर सुरक्षित माहौल के बीच अपना विकास कर सके । उन्होंने बताया कि वो जिले की पोलिसिंग को बेहतर बनाने में लगे हैं जिससे जनता को किसी प्रकार की समस्या न हो ।समाज में हो रहे अपराध पर लगाम लग सके। लोग भयरहित होकर जीए। अपराध का ग्राफ कम हो। महिलाएं सुरक्षित रहें।जनता के प्रति जिन दायित्वों को पूरा करने का बीड़ा उठाया है उसे ईमानदारी से पूरा कर सके। पुलिस का जो काम समाज के लिए है उसे कर समाज को नई दिशा देने के लिए मित्तल दिन रात प्रयासरत है ताकि लोग पुलिस पर विश्वास कर सके।