Top

अभी-अभी हुआ सपा के दिग्गज नेता का निधन, पार्टी में शोक की लहर

समाजवादी पार्टी के दिग्गज नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री बेनी प्रसाद वर्मा का शुक्रवार को निधन हो गया है। वह लंबे समय से बीमार चल रहे थे। बेनी प्रसाद वर्मा समाजवादी पार्टी के संस्थापक और देश के दिग्गज नेताओं में शामिल थे।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumarBy Dharmendra kumar

Published on 27 March 2020 2:21 PM GMT

अभी-अभी हुआ सपा के दिग्गज नेता का निधन, पार्टी में शोक की लहर
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: समाजवादी पार्टी के दिग्गज नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री बेनी प्रसाद वर्मा का शुक्रवार को निधन हो गया है।बेनी प्रसाद वर्मा का लखनऊ के मेदांता अस्पताल में निधन हो गया है। वह लंबे समय से बीमार चल रहे थे। बेनी प्रसाद वर्मा समाजवादी पार्टी के संस्थापक और देश के दिग्गज नेताओं में शामिल थे।

बेनी प्रसाद वर्मा समाजवादी पार्टी से राज्यसभा सांसद थे। बेनी प्रसाद वर्मा को उत्तर प्रदेश के कुर्मी समाज का बड़ा नेता माना जाता था। यूपीए 2 सरकार में बेनी प्रसाद वर्मा केन्द्रीय इस्पात मंत्री थे। उनके निधन से बाराबंकी जिले और समाजवादी पार्टी में शोक की लहर दौड़ गई है।

यह भी पढ़ें...कोरोना के पिछले 24 घंटे में 75 नए पॉजिटिव केस ,4 लोगों की मौत: स्वास्थ्य मंत्रालय



समाजवादी पार्टी ने आधिकारिक बयान जारी कर बेनी प्रसाद के निधन की जानकारी दी। पार्टी ने अपने ट्वीट किया कर कहा है कि पार्टी के वरिष्ठ नेता, राज्यसभा सांसद और पूर्व केंद्रीय मंत्री आदरणीय बेनी प्रसाद वर्मा जी और हम सबके प्रिय 'बाबू जी' जी का निधन अपूरणीय क्षति है। शोकाकुल परिजनों के प्रति संवेदना! शत-शत नमन और अश्रुपूर्ण श्रद्धांजलि।

यह भी पढ़ें...कोरोना: अन्य राज्यों की तुलना में यूपी बेहतर, केवल 12 जिलों में पाए गए मामले

बेनी प्रसाद वर्मा कई साल तक यूपी की सपा सरकार में पीडब्ल्यूडी मंत्री रहे। देवेगौड़ा सरकार के दौरान उन्होंने वर्ष 1996 से 1998 तक केंद्र में संचार मंत्री का कार्यभार संभाला। 1998, 1999, 2004 और 2009 में गोंडा से सांसद चुने गए और यूपीए सरकार के दौरान 12 जुलाई, 2011 को इस्पात मंत्री भी बनाए गए। पिछले लोकसभा चुनाव में हारने के बाद बेनी वर्मा कांग्रेस में हाशिए पर थे।

यह भी पढ़ें...कुछ सीखिए: घर के बाहर लगाया नोटिस, लोगों से की न आने की अपील

बताया जाता है कि बेनी प्रसाद वर्मा अपने बेटे के लिए वर्ष 2007 में टिकट चाहते थे, लेकिन सपा के पूर्व नेता अमर सिंह की वजह से बेनी प्रसाद वर्मा के बेटे राकेश वर्मा को टिकट नहीं मिला। इसी वजह से नाराज बेनी प्रसाद वर्मा ने समाजवादी पार्टी छोड़ दी और समाजवादी क्रांति दल बनाया। इसके बाद साल 2008 में वह कांग्रेस का हाथ थाम लिए। वर्ष 2016 में वह एक बार फिर समाजवादी पार्टी मे शामिल हो गए थे।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumar

Next Story