वैक्सीन से मौत! टीका लगवाने के 24 घंटे बाद तोड़ा दम, UP के मुरादाबाद में हड़कंप

48 वर्षीय महिपाल ने 16 जनवरी को टीका लगवाया था। जिसके बाद रविवार शाम घर पर महिपाल की तबीयत खराब होने लगी, जिसके बाद उन्हें अस्पताल ले जाया गया, लेकिन उनकी मौत हो गई।

Published by Shreya Published: January 18, 2021 | 9:06 am
death in updeath in up after vaccinationafter vaccination

वैक्सीन से मौत! टीका लगवाने के 24 घंटे बाद तोड़ा दम, UP के मुरादाबाद में हड़कंप (फोटो- सोशल मीडिया)

मुरादाबाद: देशभर में दुनिया का सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान शुरू हो चुका है। इस बीच उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद में एक स्वास्थ्यकर्मी की संदिग्ध मौत से हड़कंप मच गया है। बताया जा रहा है कि स्वास्थ्यकर्मी को 16 जनवरी को वैक्सीनेशन प्रोग्राम के तहत कोरोना वायरस की वैक्सीन दी गई थी। मिली जानकारी के मुताबिक, मृतक महिपाल मुरादाबाद के जिला अस्पताल में वॉर्ड बॉय के पद पर तैनात थे, जिनकी अचानक मौत से स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मचा हुआ है।

16 जनवरी को लगवाई थी वैक्सीन

48 वर्षीय महिपाल ने 16 जनवरी को टीका लगवाया था। जिसके बाद रविवार शाम घर पर महिपाल की तबीयत खराब होने लगी, जिसके बाद उन्हें अस्पताल ले जाया गया, लेकिन उनकी मौत हो गई। वहीं परिजनों का कहना है कि उन्हें मौत के पीछे की वजह टीका ही लग रहा है। मृतक के बेटे ने बताया कि जब पापा सुबह ड्यूटी से आए तो उनकी तबीयत खराब थी। मेरे पास कॉल आया कि उनकी तबीयत ज्यादा खराब है। घरवालों ने 108 पर कॉल किया था, लेकिन वो टाइम से नहीं पहुंचे, जिसके बाद आनन-फानन में उन्हें अस्पताल ले जाया गया।

यह भी पढ़ें: वेब सीरीज ‘तांडव’ पर बवाल: धार्मिक भावना भड़काने का आरोप, लखनऊ में FIR दर्ज

vaccine
(फोटो- सोशल मीडिया)

वैक्सीनेशन के बाद से थी तबीयत खराब

बेटे विशाल का कहना है कि महिपाल को 16 को टीका लगा था। मृतक के बेटे ने बताया कि उन्हें वैक्सीनेशन होने के बाद अपने साथ घर ले आया था, उनकी हालत खराब थी। उनकी सासं फूल रही थी और खांसी आ रही थी। बेटे ने बताया कि पिता पहले कोरोना पॉजिटिव नहीं थे।उन्हें थोड़ा सा निमोनिया था, लेकिन वहां से आने के बाद पिता को ज्यादा तकलीफ होने लगी थी। रविवार शाम को फोन आया की पापा की तबीयत ज्यादा खराब है। बेटे का कहना है कि मौत का कारण टीका लग रहा है।

यह भी पढ़ें: आखिर BJP ने विधान परिषद में सपा को क्यों दिया वॉकओवर, सताया बगावत का डर

क्या कहना है CMO का?

वहीं एक मीडिया रिपोर्ट में CMO मुरादाबाद के हवाले से लिखा गया है कि वैक्सीन का कोई रिएक्शन नहीं लग रहा है। मृत्यु की वजह की जांच की जा रही है। पोस्टमार्टम कराया जाएगा। ये पहले कोरोना संक्रमित नहीं थे। मुख्य चिकित्साधिकारी का कहना है कि मृतक को दोपहर में सीने में दर्द और सांस फूलने की समस्या हो रही थी, उन्हें जिला चिकित्सालय में मृत अवस्था में ले जाया गया। सीएमओ के मुताबिक, कल रात महिपाल ने नाइट ड्यूटी की थी, लेकिन कोई दिक्कत नहीं थी।

यह भी पढ़ें: बाराबंकी: युवती के साथ दरिंदगी, खेत में मिला शव, रेप के बाद हत्या का शक

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App