सुदिष्ट बाबा: भाजपा विधायक ने अपने ही दल के सांसद पर लगाया ये गम्भीर आरोप

सांसद मस्त ने इस पूरे मामले से पल्ला झाड़ लिया है तो उनके भांजे ने विधायक के आरोप को सिरे से खारिज कर दिया है । भाजपा के बैरिया क्षेत्र के विधायक सुरेंद्र सिंह ने आज अपने ही दल के बलिया से सांसद वीरेन्द्र सिंह मस्त पर जमकर हमला किया है ।

Published by SK Gautam Published: May 31, 2020 | 5:05 pm

बलिया: भाजपा किसान मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष व सांसद वीरेंद्र सिंह मस्त तथा भाजपा विधायक सुरेंद्र सिंह रविवार को आमने सामने आ गये । भाजपा विधायक ने सुदिष्ट बाबा की भूमि पर कब्जा करने के बहाने सांसद के भांजे पर गम्भीर आरोप लगाया है । उन्होंने चेतावनी दिया है कि वह इस मसले की लड़ाई हर स्तर पर लड़ेंगे ।

उधर सांसद मस्त ने इस पूरे मामले से पल्ला झाड़ लिया है तो उनके भांजे ने विधायक के आरोप को सिरे से खारिज कर दिया है । भाजपा के बैरिया क्षेत्र के विधायक सुरेंद्र सिंह ने आज अपने ही दल के बलिया से सांसद वीरेन्द्र सिंह मस्त पर जमकर हमला किया है । विधायक सुरेंद्र सिंह ने अपने आवास पर आज प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बलिया लोकसभा के सांसद वीरेंद्र सिंह मस्त के भांजे विनय सिंह के बहाने सांसद मस्त पर गंभीर आरोप लगाये हैं ।

सुदिष्ट बाबा के पशु मेला की जमीन का फर्जी तरीके से रजिस्ट्री कराया

उन्होंने आरोप लगाया है कि सांसद वीरेंद्र सिंह मस्त के भांजे दलकी निवासी विनय सिंह ने अन्य लोगों से मिलीभगत कर 25 बीघा में लगने वाले सुदिष्ट बाबा के पशु मेला की जमीन का फर्जी तरीके से रजिस्ट्री करा लिया है । उन्होंने कहा कि दो दशक पहले तक यह भूमि ग्राम समाज की रही है । ग्राम समाज की भूमि होने के कारण ही इस भूमि पर आई टी आई , फायर बिग्रेड व पालीटेक्निक के निर्माण का मार्ग प्रशस्त हुआ । उन्होंने कहा कि यह घिनौना कार्य जानबूझकर किया गया है । उन्होंने सांसद मस्त का नाम लिये बगैर कहा कि राजनीति में इससे गिरा हुआ कोई अन्य कार्य नही हो सकता ।

ये भी देखें: Reliance ने जुटाए कुल 78,562 करोड़ रुपये, लगातार लक्ष्य की ओर अग्रसर

भाजपा सांसद मस्त ने इस पूरे मसले से पल्ला झाड़ लिया

उन्होंने कहा कि सुदिष्ट बाबा के सांस्कृतिक स्वरूप की रक्षा की लड़ाई वह ग्राम पंचायत से लेकर विधानसभा तथा उप जिलाधिकारी से लेकर मुख्यमंत्री तक लड़ेंगे । उन्होंने सांसद मस्त को नसीहत देते हुए कहा कि ऐसे घृणित कार्य करने वालों को दंड अवश्य मिलेगा तथा प्रकृति स्वयं दण्ड देगी । उन्होंने प्रेस कांफ्रेंस में रजिस्ट्री के कागज को दिखाते हुए आरोप लगाया कि इस पशु मेला की जमीन की रजिस्ट्री में गवाह सांसद मस्त के सगे भाई कन्हैया सिंह हैं । उधर भाजपा सांसद मस्त ने इस पूरे मसले से पल्ला झाड़ लिया है । न्यूजट्रैक ने जब सम्पर्क किया तो भाजपा सांसद तो सामने नही आये , लेकिन उनके निजी सचिव अमन ने कहा कि इस पूरे मामले से भाजपा सांसद का कोई लेना देना नही है ।

भाजपा सांसद मस्त के भांजे विनय सिंह ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर भाजपा विधायक पर पलटवार किया है । उन्होंने भाजपा विधायक सुरेंद्र सिंह पर गम्भीर आरोप लगाते हुए कहा है कि सांसद का रिश्तेदार अथवा परिवार का होना कोई अपराध नही है । उन्हें परिवार का होने पर गर्व है । उन्होंने विधायक के आरोप पर सफाई देते हुए दावा किया है कि उनकी कम्पनी वर्ष 2013 से कार्यरत है । उन्होंने स्पष्ट किया कि कम्पनी के कार्यो से भाजपा सांसद मस्त का कोई जुड़ाव व सरोकार नही है । उनकी कम्पनी ने खतौनी में दर्ज किसानों से जमीन क्रय किया है तथा इसके लिए सरकार को बकायदा रेवेन्यू अदा किया है ।

ये भी देखें: कोविड टैक्स लगाने की सरकार की अभी कोई योजना नहीं: मुख्यमंत्री योगी

उन्होंने भाजपा विधायक पर निशाना साधते हुए कहा कि फर्जी व गलत काम करने वाले क्यों व्याकुल हैं , इसकी जानकारी सभी को है । उन्होंने भाजपा विधायक के आरोप पर यह कहते हुए सफाई भी दी कि जमीन का मालिकाना हक निर्धारित करने का काम राजस्व विभाग व न्यायालय का है , इसे कोई व्यक्ति तय नही कर सकता । भाजपा विधायक के आरोप के बाद जिले की सियासत गरमा गई है । भाजपा सांसद मस्त व भाजपा विधायक सुरेंद्र सिंह दोनों बैरिया क्षेत्र के ही रहने वाले हैं ।

ये भी देखें: नोंच-नोंच कर खाया: देख हर किसी के रोंगटे खड़े हो गए, खेल रहा था 2 साल का मासूम

रिपोर्ट- अनूप कुमार हेमकर, बलिया

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App