×

झंडेवाला पार्क अमीनाबाद में मनाई गयी स्वामी विवेकानंद की जयंती

राम केवी

राम केवीBy राम केवी

Published on 12 Jan 2020 2:31 PM GMT

झंडेवाला पार्क अमीनाबाद में मनाई गयी स्वामी विवेकानंद की जयंती
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

लखनऊ। स्वामी विवेकानंद के जन्मदिवस पर झंडेवाला पार्क अमीनाबाद में कार्यक्रम के आयोजक पूर्व नेता विधान परिषद विंध्यवासिनी कुमार के साथ बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ,बीजेपी में बजरंगी के नाम से विख्यात विनय कटियार ,काबीना मंत्री बृजेश पाठक सहित अनेक गणमान्य लोगो ने स्वामी विवेकानंद जी की प्रतिमा पर पुष्प अर्पित किया।

बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह

इस अवसर पर बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने कहा की स्वामी विवेकानंद ने हिन्दू संस्कृति के सत्य स्वरुप को पूरी दुनिया के सामने रखा जिसकी पुरे विश्व में चर्चा हुई, जिससे आज हम सभी को प्रेरणा और ऊर्जा मिलती है। प्रदेश अध्यक्ष ने आरोप लगाया की आज हमारे प्रधानमंत्री का लोहा जब पूरी दुनिया मान रही है तो कांग्रेस समेत पूरा विपक्ष सडकों पर दंगा कराकर देश में आग लगाने का काम कर रहा है ।

विनय कटियार

स्वामी विवेकानंद जयंती के अवसर पर विनय कटियार ने कांग्रेस का इतिहास बताते हुए कहा की नेहरू के प्रधानमंत्री बनने के स्वार्थ के कारण ही देश का विभाजन हुआ, उनकी बेटी इंदिरा गांधी ने करपात्री महाराज के साथ दिल्ली में अनशन कर रहे सैकड़ो संतों पर गोली चलवाकर उनकी नृशंस हत्या करवा दी, उनके बेटे राजीव गांधी ने दिल्ली की सड़को पर हजारो बेगुनाह सिखों का रक्त बहाया ,उनकी विदेश से आयी पत्नी भगवान् राम के अस्तित्व को नकार देती है ,राम सेतु को ध्वंस करने का षड़यंत्र रचती है और ये लोग आज हमें भारत की सनातन हिन्दू संस्कृति पर ज्ञान दे रहे है, सी ए ए हो गया ,तीन तलाक होगया ,राम मंदिर के लिए रास्ता साफ हो गया ,अभी जनसख्या नियंत्रण जैसे इत्यादि महत्वपूर्ण काम भी इसी सरकार में होने बाकी हैं ।

इसे भी पढ़ें

युवा महोत्सव का आगाज: कुंभ ने दी अंतरराष्ट्रीय पहचान, अब मिला दूसरी बार मौका-CM

विंध्यवासिनी कुमार ने कहा

स्वामी विवेकानंद जयंती कार्यक्रम के आयोजक पूर्व नेता विधान परिषद विंध्यवासिनी कुमार ने कहा की इस पार्क से भारत की आजादी के आंदोलनों के कई संस्मरण जुड़े हुए है, बाबू गंगा प्रसाद द्वारा इस पार्क का निर्माण कराया गया ,उन्होंने काबीना मंत्री बृजेश पाठक का धन्यवाद किया की उन्होंने उनकी मांग पर अपनी विधायक निधि से इस पार्क में वाचनालय बनाने हेतु फंड दिया।

काबीना मंत्री बृजेश पाठक

काबीना मंत्री बृजेश पाठक ने कहा की मुझे गर्व है की मेरी विधान सभा में ऐसा ऐतहासिक पार्क है इसकी उन्नति के लिए जो भी आवश्यक होगा वह किया जायेगा। कार्यक्रम में बीजेपी के क्षेत्रीय संगठन मंत्री ओम प्रकाश श्रीवास्तव ,अशोक तिवारी, प्रदेश मंत्री त्रयम्बक त्रिपाठी, महानगर अध्यक्ष मुकेश शर्मा ,को आपरेटिव के अध्यक्ष मान सिंह ,अधिवक्ता गिरीश सिन्हा, विकर्ष श्रीवास्तव, विश्वेश कुमार, किशन कुमार, नीरज सक्सेना, सहित अनेक गणमान्य लोगो ने स्वामी विवेकानंद की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया ।

श्रीमद्भगवद्गीता की समसामयिक प्रासंगिकता पर व्याख्यान

महामना मालवीय मिशन द्वारा संचालित श्रीमद्भगवद्गीता समिति के तत्वावधान में “वर्तमान वैश्विक चुनौती और श्रीमद्भगवद्गीता की समसामयिक प्रासंगिकता” विषय पर व्याख्यान हुआ, जिसमें मुख्य वक्ता के रूप में महामना मालवीय मिशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष प्रभु नारायण का व्याख्यान हुआ।

उन्होंने कहा कि वर्तमान सामाजिक, राजनैतिक तथा आर्थिक सभी प्रकार की चुनौतियों का समाधान गीता में निहित है। उन्होंने कहा कि निहित स्वार्थवश विगठनकारी शक्तियों द्वारा संशय और भ्रम की स्थिति पैदाकर समाज तथा देश में अस्थिरता का माहौल पैदा किया जा रहा है।

इसे भी पढ़ें

यूपी: CM योगी ने किया 5 दिवसीय युवा महोत्सव कार्यक्रम का उद्घाटन

प्रभुनारायण ने कहा कि गीता में भगवान कृष्ण ने इस विषय पर स्पष्ट रूप से कहा है कि जब कभी भी समाज में संशय और भ्रम की स्थिति पैदाकरने का प्रयास हो उस समय समाज को संगठित होकर ही ऐसी असुरी शक्तियों को परास्त करना सम्भव होगा। उन्होंने कहा कि हम सब को श्रीमद्भगवद्गीता के उपदेशों को अपने जीवन एवं कार्यशैली में अंगीकार करना चाहिए। हर समस्या का समाधान श्रीमद्भगवद्गीता में निहित है।

इसे भी पढ़ें

राष्ट्रीय युवा महोत्सव में नीति आयोग के सीईओ करेंगे युवाओं से संवाद

युवा दिवस के अवसर पर स्वामी विवेकानंद के चित्र पर माल्यार्पण एवं पुष्पांजलि अर्पित कर उनके आदर्शों पर भी प्रकाश डाला गया एवं उनके शिकागों में दिए गए उद्बोधन को रेखांकित किया गया।

राम केवी

राम केवी

Next Story