ट्रेनिंग के दौरान सरकारी अध्यापकों को दूषित भोजन परोसने पर हुआ हंगामा

हमीरपुर ज़िले में अध्यापकों की शत प्रतिशत उपस्थिती के लिये लागू किये गये प्रेरणा एप्प की ट्रेनिंग ले रहे प्राइमरी स्कूलों के अध्यापकों को सड़ा भोजन परोसने…

Published by Deepak Raj Published: February 26, 2020 | 9:56 pm
Modified: February 26, 2020 | 10:07 pm

हमीरपुर। हमीरपुर ज़िले में अध्यापकों की शत प्रतिशत उपस्थिती के लिये लागू किये गये प्रेरणा एप्प की ट्रेनिंग ले रहे प्राइमरी स्कूलों के अध्यापकों को सड़ा भोजन परोसने से कई टीचर बीमार हो गये।

ये भी पढ़ें-गुजरात सरकार के वित्तमंत्री नितिन पटेल ने 2,17,287 करोड़ का पेश किया बजट

जिससे गुस्साये अध्यापकों ने भोजन को फेंक कर  जिला बेशिक शिक्षा अधिकारी ने पूरे मामले की जांच कर कार्यवाही का आश्वासन दिया तब अध्यापकों का गुस्सा शांत हुआ ।

शिक्षकों ने जमकर हंगामा किया

हंगामा कर भोजन फेंक रहे यह सब सरकारी प्राइमरी स्कूलों के वोह टीचर है जो बीआरसी में 5 दिनों की ट्रेनिग कर रहे है आज इन्हें सड़ा हुआ बदबूदार भोजन परोसा गया जिससे उनके गुस्से का बांध टूट गया और इन्होंने जमकर हंगामा किया है।

नीतू सचान टीचर हमीरपुर ज़िले में सरकारी प्राइमरी स्कूलो में अध्यापकों की शत प्रतिशत उपस्थिति दर्ज कराने के लिये प्रेणना एप्प लागू किया गया है जिसके लिये हर ब्लाक के बीआरसी सेंटरों पर अध्यापकों को 5 दिवसीय ट्रेनिग दी जा रही है।

ये भी पढ़ें-अभी-अभी 5 अफसरों के तबादले: दिल्ली हिंसा पर रोक लगाने के लिए सरकार का प्लान

आज कुछेछ गांव में स्थित बीआरसी सेंटर में अध्यापकों की ट्रेनिंग के दौरान टीचरों को सड़ा हुआ भोजन परोस दिया गया। जिससे अध्यापकों में रोष फैल गया और उन्होंने भोजन को फेंक कर जम कर हंगामा किया है। टीचरों की शिकायत के बाद जिला बेशिक शिक्षा अधिकारी ने जांच के आदेश दे कर दोषियों के खिलाफ कार्यवाही के आदेश दे दिये है ।