यूपी में तीन शिक्षक हुए निलंबित, जानिए क्या है पूरा मामला

सोशल मीडिया पर देवी देवताओं पर अभद्र टिप्पणी करने के आरोप में जौनपुर के बेसिक शिक्षा अधिकारी (बीएसए) डाॅ. राजेन्द्र सिंह ने मंगलवार को एक और शिक्षक को निलंबित कर दिया है। ऐसे ही अलग-अलग मामले में बीएसए सोमवार को दो शिक्षकों को निलंबित कर चुके हैं।

लखनऊ: सोशल मीडिया पर देवी देवताओं पर अभद्र टिप्पणी करने के आरोप में जौनपुर के बेसिक शिक्षा अधिकारी (बीएसए) डाॅ. राजेन्द्र सिंह ने मंगलवार को एक और शिक्षक को निलंबित कर दिया है। ऐसे ही अलग-अलग मामले में बीएसए सोमवार को दो शिक्षकों को निलंबित कर चुके हैं।

यह भी पढ़ें…पीएम मोदी ने बताया, इस बड़ी स्कीम से 11 लाख लोगों को मिलेगी नौकरी

तीन शिक्षकों ने अपनी मर्यादा तोड़ते हुए सोशल मीडिया पर देवी देवताओं के विरूद्ध आपत्तिजनक पोस्ट की थी। इस तरह के मामला सामने आते ही हिन्दू संगठनों में आक्रोश व्याप्त हो गया। पुलिस ने सभी आरोपितों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करके कार्रवाई शुरू कर दी है।

यह भी पढ़ें…36 घंटे ऐतिहासिक! कल से यूपी विधानसभा सत्र की होगी शुरुआत

जिला बेसिक शिक्षाधिकारी डाॅ. राजेन्द्र सिंह ने भी आरोपित शिक्षकों को निलंबित कर दिया। मंगलवार को सुईथाकला ब्लॉक के प्राथमिक विद्यालय बुमकहां में तैनात प्रदीप कुमार को सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक पोस्ट करने के आरोप में निलंबित कर दिया है। इससे पहले सोमवार को खुटहन प्राथमिक विद्यालय के शिक्षक दिनेश यादव ने अपने फेसबुक पर नवरात्रि के पहले दिन मां दुर्गा के खिलाफ अभद्र टिप्पणी की थी।

यह भी पढ़ें…जम्मू-कश्मीर: अब नहीं बचेंगे आतंकी, भारतीय सेना ने रचा ये बड़ा चक्रव्यूह

उसे भी मंगलवार को पुलिस ने गिरफ्तार करके जेल भेज दिया। दूसरा अध्यापक प्राथमिक मड़ियाहूं ब्लाक के रईया विद्यालय में तैनात अनिल दीप चौधरी है। पुलिस मुकदमा दर्ज करके उसकी तलाश कर रही है। इस संबंध में बीएसए राजेंद्र सिंह ने कहा कि इस तरह के कृत्य करने वाले जो भी अध्यापक होंगे उनको बख्शा नहीं जाएगा। उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।