घोर कलियुग है भाई! ऐसे बाप से बेहतर है बच्चा अनाथ ही रहे…

यूपी के जनपद कासगंज में एक दिल दहलाने वाली घटना सामने आई है। यहां मासूम बच्चे के सौतेले पिता ने शरारत करने पर उसकी पीट -पीट हत्या कर दी। मासूम बच्चे को ज़मीन पर पटक कर उसके पेट पर खड़ा हो गया। जिससे बच्चे की मौके पर मौत हो गईं।

Published by Aditya Mishra Published: June 29, 2019 | 4:44 pm
Modified: June 29, 2019 | 5:05 pm
कासगंज

कासगंज

कासगंज: यूपी के जनपद कासगंज में एक दिल दहलाने वाली घटना सामने आई है। यहां मासूम बच्चे के सौतेले पिता ने शरारत करने पर उसकी पीट -पीट हत्या कर दी। मासूम बच्चे को ज़मीन पर पटक कर उसके पेट पर खड़ा हो गया। जिससे बच्चे की मौके पर मौत हो गईं।

घटना के बाद से लापता है पिता

घटना को अंजाम देेेकर पिता मौके से फरार हो गया। इसकी जानकारी जब परिजनों को हुई तो बच्चे को मृृत देख कर घर में कोहराम मच गया, सूचना मिलते ही मौके पर पहुुँची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पीएम के लिए भेज दिया।

कोतवाली सिकन्दरपुर वैश्य के गांव रानीदामर में देर शाम को एक जालिम सौतेले पिता ने ढाई वर्षीय मासूम आयूष को पीट पीट कर मौत के घाट उतार दिया। पुत्र के पेट पर खड़े होकर बेरहमी से पीटता रहा जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई।

ये भी पढ़ें…कासगंज हिंसा: सोची समझी साजिश थी घटना,एकतरफा कार्यवाही से भड़के लोग

मासूम का कसूर सिर्फ इतना था कि वह घर में शरारत कर रहा था। ये बात हत्यारोपी पिता मेघ सिंह को नागवार गुज़री। वह गुस्से में आ गया और बच्चे को ज़मीन पर पटक दिया।

वहीं मृृतक आयूष की मां का आरोप है कि दो-तीन बार उसने बच्चे को जमीन पर पटका। इसके बाद भी उसका गुस्सा शांत नहीं हुआ तो वह मासूम बच्चे के पेट पर चढ़ गया और उसके पेट पर कूद कर निर्मम हत्या कर दी।

आरोपी ने की है दूसरी शादी

आपको बता दें आरोपी पिता मेघ सिंह ने अपनी पहली पत्नी को छोड़कर 4 माह पूर्व मृतक मासूम की माँ पुष्पा से विवाह कर लिया था और पुष्पा अपने 3 वर्षीय मासूम बेटे को उसके घर साथ लेकर आई थी।

जिससे वह अपने जिगर के टुकड़े के भविष्य को सही कर सके। लेकिन उसको क्या पता था कि में जिससे के पास अपने जिगर की टुकड़े को भविष्य को सही करने के लिए लेकर जा रही हूँ वही एक दिन उसका जान का दुश्मन बन जायेगा।

ये भी पढ़ें…कासगंज हिंसा: सोची समझी साजिश थी घटना,एकतरफा कार्यवाही से भड़के लोग

बताया जाता है कि अपने बेटे को साथ लेकर आने के बाद से दोनों में विवाद भी चल रहा था तभी कल जब मासूम की माँ सहित घर के अन्य सदस्य खेत पर काम करने चले गए तो उसने मौका देखकर घटना को अंजाम दे दिया, उसी समय मेघ सिंह पर उसकी बहन संतो की नजर पड़ी तो वह चिल्लाती हुई बाहर निकली इसी दौरान मेघ सिंह भाग गया।

पुलिस कर रही है आरोपी की तलाश

इसकी खबर जब गांव में आग की तरह फैली तो भीड़ जमा  हो गई घटना की जानकारी मिलते ही एएसपी डा.पवित्र मोहन त्रिपाठी सहित भारी मात्रा में पुलिस बल घटना स्थल पर पहुंच गया। एएसपी ने बताया कि मासूम की माँ की तहरीर पर मामला दर्ज कर लिया पुलिस ने मामला दर्ज कर हत्या आरोपी पिता की तलाश में जुट गई है।

ये भी पढ़ें…कासगंज: 350 से ज्यादा पुलिसकर्मी और बग्घी में सवार होकर आया दलित दूल्हा