×

कमलेश की हत्या से जुड़े ये सवाल, अपने आप में बहुत कुछ समेटे हैं

डीजीपी ओम प्रकाश सिंह ने बताया है कि आरोपियों की पहचान कर ली गई है और हत्या के तार गुजरात के सूरत से जुड़े हैं। डीजीपी ने कहा कि 24 घंटे के अंदर हत्या के मामले को सुलझाया है।

Shivakant Shukla

Shivakant ShuklaBy Shivakant Shukla

Published on 19 Oct 2019 8:07 AM GMT

कमलेश की हत्या से जुड़े ये सवाल, अपने आप में बहुत कुछ समेटे हैं
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

लखनऊ: शुक्रवार को यूपी की राजधानी में हिंदू समाज पार्टी के नेता कमलेश तिवारी की हत्या मामले में डीजीपी ओपी सिंह ने प्रेस कांफ्रेंस करके कई खुलासे किए हैं। लेकिन अभी भी कुछ ऐसे सवाल हैं जो शायद इस हत्या की गुत्थी ​को और उलझा सकते हैं...

ये भी पढ़ें—पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट के खुलासा, कमलेश तिवारी को करीब 13 बार चाकू मारा गया

हत्या से जुड़े कुछ सवाल...

पहला सवाल: सीसीटीवी फुटेज में दिख रही महिला कौन है?

दूसरा सवाल: जब हत्यारे इतने देर तक कमलेश तिवारी से बातचीत किए तो वह निश्चित ही जानने वाले रहे होंगे। तो वह कौन लोग हैं जो हत्या में शामिल थे?

तीसरा सवाल: कमलेश तिवारी के हत्या के समय क्या उनके पास कोई नहीं था?

चौथा सवाल: कमलेश तिवारी का नौकर मर्डर के समय बाहर क्या करने गया था?

अंतिम सवाल: हमले के समय सिक्योरिटी गार्ड कहां था और क्या कर रहा था?

ये भी पढ़ें— कमलेश तिवारी हत्याकांड: बिजनौर के मौलाना अनवारुल हक गिरफ्तार, पुलिस ने दर्ज किया था केस

डीजीपी ने प्रेस कांफ्रेंस में बताई ये बातें

डीजीपी ओम प्रकाश सिंह ने बताया है कि आरोपियों की पहचान कर ली गई है और हत्या के तार गुजरात के सूरत से जुड़े हैं। डीजीपी ने कहा कि 24 घंटे के अंदर हत्या के मामले को सुलझाया है। डीजीपी ने कहा कि इस हत्याकांड के मामले का मास्टरमाइंड राशिद पठान है। पुलिस ने रशीद पठान के साथ दो और लोगों को हिरासत में लिया है। डीजीपी ने कहा कि इस मामले की जांच हर पहलू से कर रहे हैं। डीजीपी ने कमलेश को सुरक्षा देने के मामले में कहा कि उनको गनर मिला हुआ था।

कमलेश के हत्यारों को कब तक सजा मिलती है?

उन्होंने कहा कि एक मौलाना गिरफ्तार किया गया है, एक हिरासत में लिया गया है। जांच के बाद पया कि मौके पर एक मिठाई का डब्बा मिला और उससे जो हिंट मिले उससे हमने गुजरात एटीएस से संपर्क किया। डीजीपी ने कहा कि कमलेश की हत्या की साजिश 2015 में ही रची गई थी। फिलहाल अब देखना ये होगा कि कमलेश के हत्यारों को कब तक सजा मिलती है।

ये भी पढ़ें— कमलेश तिवारी के हत्यारे सूरत की धरती ब्रांड के मिठाई के डिब्बे में लाए थे हथियार

Shivakant Shukla

Shivakant Shukla

Next Story