Top
TRENDING TAGS :Coronavirusvaccination

लखनऊ में देर रात मुठभेड़, पुलिस ने मोहनलालगंज हत्याकांड के बदमाशों को दबोचा

मोहनलालगंज के प्रतिष्ठित व्यापारी सुजीत पांडे हत्याकांड में शामिल दो बदमाशों को राजधानी पुलिस ने आशियाना थाना क्षेत्र में हुई मुठभेड़ में धर दबोचा है। बीती रात पुलिस के साथ हुई मुठभेड़ में दो बदमाश अरुण और मुलायम यादव घायल हुए हैं।

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 30 Dec 2020 3:17 AM GMT

लखनऊ में देर रात मुठभेड़, पुलिस ने मोहनलालगंज हत्याकांड के बदमाशों को दबोचा
X
लखनऊ में देर रात मुठभेड़, पुलिस ने मोहनलालगंज हत्याकांड के बदमाशों को दबोचा
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: मोहनलालगंज के प्रतिष्ठित व्यापारी सुजीत पांडे हत्याकांड में शामिल दो बदमाशों को राजधानी पुलिस ने आशियाना थाना क्षेत्र में हुई मुठभेड़ में धर दबोचा है। बीती रात पुलिस के साथ हुई मुठभेड़ में दो बदमाश अरुण और मुलायम यादव घायल हुए हैं। पुलिस का कहना है कि दोनों ही बदमाश मोहनलालगंज के व्यापारी सुजीत पांडे हत्याकांड में शामिल है। व्यापारी की हत्या की साजिश रचने वाला मधुकर यादव पहले से जेल में बंद है।

आशियाना थाना क्षेत्र में पुलिस और बदमाशों के बीच बीती रात हुई मुठभेड़ में इनामी बदमाश को गोली लगी है। पुलिस कमिश्नर डीके ठाकुर के अनुसार थाना आशियाना क्षेत्र के नटूवा डी टीला बिजनोर रोड के पास आशियाना थाना पुलिस की टीम के साथ हुई मुठभेड़ में शातिर अपराधी अरुण कुमार यादव उर्फ छोटू पुत्र शिव बालक यादव उम्र 26 वर्ष निवासी रायसिंह खेड़ा माती थाना बंथरा तथा अभियुक्त मुलायम यादव पुत्र रामनरेश यादव उम्र 29 वर्ष निवासी मरूही थाना मोहनलालगंज घायल हुए हैं।

ये भी पढ़ें: UP में मिला कोरोना का नया स्ट्रेन, मेरठ में दो साल की बच्ची संक्रमित, मचा हड़कंप

दोनों के कब्जे से एक अदद मोटरसाइकिल बजाज प्लेटिना , अवैध असलहा अरुण के पास 315 बोर मुलायम के पास 32 बोर का तमंचा और कारतूस बरामद किया गया है। उन्होंने बताया कि थाना क्षेत्र में गश्त कर रही टीम ने संदिग्ध समझ कर जब मोटरसाइकिल सवार बदमाशों को रोकने की कोशिश की तो उन्होंने पुलिस टीम पर फायर कर दिया ।जवाबी कार्रवाई में दोनों बदमाश घायल हुए हैं।

शातिर बदमाशों को मुठभेड़ में घायल करने वाली पुलिस टीम इंस्पेक्टर आशियाना केशव तिवारी के नेतृत्व में सबइंस्पेक्टर अनूप सिंह,कांस्टेबल फ़रीद, कुदरत, हेड कांस्टेबल सगीर, प्रदीप मनीष और राहुल की अहम भूमिका रही है।

मुठभेड़ में घायल हुए अरुण और मुलायम यादव निकले शूटर

पुलिस मुठभेड़ में घायल हुए दोनों बदमाशों कि पुलिस को मोहनलालगंज व्यापारी हत्याकांड में तलाश थी दोनों की धरपकड़ के लिए पुलिस ने कई जगह दबिश भी दे रखी है। पुलिस की शुरुआती पूछताछ की है उससे चौंकाने वाली जानकारी मिली है बताया जा रहा है कि दोनों बदमाशों ने मोहनलालगंज में

तेल चोरी के मामले में जेल गए मधुकर यादव की साजिश को अंजाम देने के लिए व्यापारी नेता सुजीत पांडे की हत्या की थी । मधुकर यादव के तीनो भाई वारदात से 3 दिन पहले गिरफ्तार कर जेल भेजे गए थे । खाद्य विभाग के द्वारा मधुकर यादव की फैक्ट्री में छापेमारी से बरामद हुआ तेल सील कर फैक्ट्री में रखा गया था मधुकर यादव ने उसे चोरी करवा लिया था इसके बाद मधुकर यादव और उसके भाइयों के खिलाफ खाद्य विभाग ने एफआईआर दर्ज करवाई थी।

ये भी पढ़ें: वाराणसी: अब हेलीकॉप्टर से गंगा घाट पर उतर सकेंगे सैलानी, मिलेंगी हाईटेक सुविधाएं

पुलिस ने रिपोर्ट के आधार पर गिरफ्तार कर तीनो भाइयो को जेल भेज दिया था। जेल में रहने के दौरान ही मधुकर यादव और उसके दोनों भाइयों ने सुजीत पांडे हत्या की साजिश रची थी। इसके पीछे उनकी मंशा इलाके में अपना वर्चस्व कायम रखने की भी थी। सुजीत पांडे की हत्या के बाद मधुकर यादव नवगठित मोहनलालगंज नगरपालिका का चेयरमैन बनना चाहता था। 2 साल पहले अशोक यादव मर्डर में भी मधुकर यादव का नाम सामने आया था।

अखिलेश तिवारी

Newstrack

Newstrack

Next Story