Top
TRENDING TAGS :Coronavirusvaccination

पुलिस कमिश्नरेट: अब वाराणसी और कानपुर में भी ये व्यवस्था, लगेगा अपराधों पर अंकुश

प्रदेश में क़ानून व्यवस्था को लेकर उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार लगातार बड़े फैसले ले रही है। इसी क्रम में उत्तर प्रदेश में जल्द दो  नए पुलिस कमिश्नरेट बनेंगे। ये नए पुलिस कमिश्नरेट वाराणसी और कानपुर में होंगे। इस बारे में कैबिनेट के जरिए जल्द प्रस्ताव लागू होगा।

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 25 March 2021 1:23 PM GMT

पुलिस कमिश्नरेट: अब वाराणसी और कानपुर में भी ये व्यवस्था, लगेगा अपराधों पर अंकुश
X
पुलिस कमिश्नरेट: अब वाराणसी और कानपुर में भी ये व्यवस्था, लगेगा अपराधों पर अंकुश
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: प्रदेश में क़ानून व्यवस्था को लेकर उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार लगातार बड़े फैसले ले रही है। इसी क्रम में उत्तर प्रदेश में जल्द दो नए पुलिस कमिश्नरेट बनेंगे। ये नए पुलिस कमिश्नरेट वाराणसी और कानपुर में होंगे। इस बारे में कैबिनेट के जरिए जल्द प्रस्ताव लागू होगा।

नोएडा और लखनऊ में पहले से ही पुलिस कमिश्नरेट सिस्टम

बता दें कि, नोएडा और लखनऊ में पहले से ही पुलिस कमिश्नरेट सिस्टम है। यानि इसी के साथ अब यूपी में चार पुलिस कमिश्नरेट होंगे। वाराणसी और कानपुर में दो पुलिस कमिश्नरेट में एडीजी स्तर के अधिकारी पुलिस कमिश्नर होंगे।

पुलिस कमिश्नर सिस्टम क्या है?

पुलिस आयुक्त शहर में उपलब्ध स्टाफ का उपयोग अपराधों को सुलझाने, कानून और व्यवस्था को बनाये रखने, अपराधियों और असामाजिक लोगों की गिरफ्तारी, ट्रैफिक सुरक्षा आदि के लिये करता है। इसका नेतृत्व डीसीपी और उससे ऊपर के रैंक के वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा किया जाता है।

ये भी देखें: दिखा यूएफओः अमेरिकी अधिकारी का बड़ा खुलासा, रडार को चकमा देने का दावा

कमिश्नरी प्रणाली में पुलिस आयुक्त अपने कार्यक्षेत्र में कानून-व्यवस्था बनाए रखने एवं अपने निर्णयों के लिये राज्य सरकार के प्रति उत्तरदायी होता है। इस प्रणाली में दंड प्रक्रिया संहिता (Code Of Criminal Procedure-CRPC) के तहत कुछ मामलों में अंतिम फैसला लेने का अधिकार पुलिस आयुक्त को दे दिया जाता है।

ये भी देखें: भारत हमारा बहुत अच्छा दोस्त, वार्ता में न बुलाने पर अफगान सरकार ने जताई आपत्ति

दोस्तों देश दुनिया की और को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Newstrack

Newstrack

Next Story