×

लोग मचाते रह गए शोर, यूनिवर्सिटी ने शुरू किया Article 370 और CAA पर कोर्स

अभी तो देश में CAA और NRC को लेकर बवाल थमा भी नहीं है, अब इसी बीच खबर आ रही है कि उत्तर प्रदेश राजश्री टंडन ओपन यूनिवर्सिटी (UPRTOU) नागरिकता संशोधन कानून (CAA) और अनुच्छेद 370 (Article 370) पर तीन महीने का एक स्पेशल कोर्स करा रही है।

Roshni Khan
Updated on: 15 Jan 2020 6:55 AM GMT
लोग मचाते रह गए शोर, यूनिवर्सिटी ने शुरू किया Article 370 और CAA पर कोर्स
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

लखनऊ: अभी तो देश में CAA और NRC को लेकर बवाल थमा भी नहीं है, अब इसी बीच खबर आ रही है कि उत्तर प्रदेश राजश्री टंडन ओपन यूनिवर्सिटी (UPRTOU) नागरिकता संशोधन कानून (CAA) और अनुच्छेद 370 (Article 370) पर तीन महीने का एक स्पेशल कोर्स करा रही है। इस कोर्स में CAA और Article 370 की पूरी जानकारी दी जाएगी। राजश्री टंडन यूपी की एकमात्र ओपन यूनिवर्सिटी है।

ये भी पढ़ें:कर लिया ‘खिचड़ी’ का स्नान और भूल गए! तो अभी है वक्त, अपने नाम से करें ये काम

पीआरओ प्रभात मिश्रा ने बताया

UPRTOU पीआरओ प्रभात मिश्रा ने बताया, ''नए कोर्स की शरुआत 10 जनवरी से हो चुकी है और एडमिशन भी शूरू हो चुके हैं। कोर्स की फीस 700 रुपए होगी। साथ ही कोर्स में सीटों की कोई लिमिट नहीं है।'' उन्होंने बताया, ''इस कोर्स में छात्रों को Article 370 और CAA के प्रावधानों, उल्लंघन और इसके परिणामों के बारे में पढ़ाया जाएगा।''

मिश्रा ने कहा, ''निजी स्वार्थ के चलते इन पर जो झूठ फैलाया जा रहा है, छोत्रों को उसके पीछे की सच्चाई जानना बेहद जरूरी है। इसलिए इस कोर्स को लाया गया है।''

वहीं यूनिवर्सिटी के VC प्रोफेसर कामेश्वर नाथ सिंह ने कहा, ''कोई भी संस्था देश के मुद्दों और नीतियों से अलग नहीं रह सकती है। दो ज्वलंत मुद्दों-CAA और Article 370 को लेकर फैली अफवाहों को दूर करने की तत्काल आवश्यकता है। छात्रों और अन्य लोगों में जागरूकता फैलाना विश्वविद्यालय का नैतिक कर्तव्य है।''

ये भी पढ़ें:ArmyDay: देश की आन-बान-शान भारतीय सेना को ऐसे मिल रही शुभकामनाएं

VC ने बताया, ''इस जागरूकता पाठ्यक्रम में इंटरमीडिएट (10+2) के बाद दाखिला लिया जा सकता है। एडमिशन के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन होगा। साथ ही यूनिवर्सिटी के किसी कोर्स के साथ इसे किया जा सकता है।'' VC ने कहा, ''UPRTOU समाज के वर्तमान मुद्दों पर आधारित पाठ्यक्रम चलाती है। कोर्स के दौरान छात्रों को असाइनमेंट दिया जाएगा, जिसके पूरा होने पर उन्हें प्रमाण पत्र भी बांटे जाएंगे।''

Roshni Khan

Roshni Khan

Next Story