×

Trending: भारत की राजनीति पैजामे पे टिकी है और पैजामे के साथ ऐसा हो गया तो

उन्नाव रेप मामले को लेकर संसद से सड़क तक संग्राम मचा है। मंगलावर को पीड़िता के सड़क हादसे का मामला जहां एक तरफ संसद में उठा तो वहीं दूसरी तरफ कांग्रेस ने विरोध प्रदर्शन किया। कांग्रेस ने लखनऊ में धरना प्रदर्शन किया इसमें पार्टी के बड़े नेता शामिल हुए

Dharmendra kumar

Dharmendra kumarBy Dharmendra kumar

Published on 30 July 2019 2:03 PM GMT

Trending: भारत की राजनीति पैजामे पे टिकी है और पैजामे के साथ ऐसा हो गया तो
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

लखनऊ: उन्नाव मामले में काँग्रेस काफी मुखर,प्रखर नजर आ रही थी। जोशीले कार्यकर्ता बीजेपी ऑफिस को घेरने निकल पड़े। इनमें शामिल थे शिव पांडेय साहेब। जोरदार नारे लगा रहे थे। सांस फूल रही थी, लेकिन टीवी और अखबार पर छपने का मौका कैसे जाने देते। उनको क्या पता था कि वो अगले कुछ घंटों में इंडिया में फेमस होने वाले हैं।

यह भी पढ़ें...Triple Talaq Bill Rajya Sabha: मोदी सरकार की जीत, पास हुआ तीन तलाक बिल

अब क्या कहें गलती उनके जोश की थी या उनके दर्जी की, झक्क सफ़ेद पैंट वहां से धोखा दे गई जहां से देना बेवफ़ाई में गिना जाता है। नेता जो चार पुलिसवालों के हाथों में टंगे थे, और फोटो जर्नलिस्ट आशुतोष त्रिपाठी ने धकाधक कैमरे में तस्वीरें या ये कहें उनकी बेपर्दा होती इज्जत को खूँटे में टांग दिया। इसके बाद क्या हुआ वो तो जमाने को पता है। लेकिन हम क्या करें हम भी आदत से मजबूर हैं फिर से बताएंगे पूरा का पूरा। (वो क्या है कि आधा गिलास पानी भी पसंद नहीं है)

यह भी पढ़ें...कांग्रेस को बड़ा झटका, संजय सिंह का पार्टी से इस्तीफा, BJP में होंगे शामिल

तो भैया इसके बाद हुआ ये कि आशुतोष ऑफिस पहुंचे, और फोटो फाइल करने के बाद लग गए अपने मिशन झुनझुना( ये हमारे बोल बचन है इससे आशुतोष का कोई लेना देना नहीं है) पर। 36 तस्वीरों से सबसे उम्दा तस्वीर को खोजने में उन्हे 20 या हो सकता है 21 मिनट लगे हो। फिर उस वाली तस्वीर वो जो आप ऊपर देख चुके हैं। उसे ट्विटर वाली चिड़िया को पकड़ा दिये, इसके बाद तो मतलब भसड़ फैल गई। तस्वीर वायरल हो गई। वरिष्ठ पत्रकार नवल कान्त सिन्हा, हेमंत तिवारी और अतुल अग्रवाल के साथ कई नेताओं ने उस तस्वीर पर मौज ली। तो वहीं कुछ की भावना लाल हो गई बोले तो भड़क गई।

आज के लिए मालिक लोगों इतना ही बुरा लगा हो तो पत्नी से बोल कर दो रोटी अधिक सिकवा लेना...अमा खाने के लिए।







Dharmendra kumar

Dharmendra kumar

Next Story