×

उन्नाव दुष्कर्म कांड अपडेट : सीबीआई ने जांच लिया अपने हाथ

उन्नाव के दुष्कर्म कांड के बाद रायबरेली में हुए सड़क हादसे में विधायक कुलदीप सिंह सेंगर की मुश्किलें बढ़ती जा रही है है। सीबीआई बुधवार की सुबह रायबरेली पहुंच कर केस डायरी अपने कब्जे में ले लिया है।सीबीआई ने घटना स्थल पर पहुँच कर गहनता से जाँच में जुट गयी है।

Roshni Khan

Roshni KhanBy Roshni Khan

Published on 31 July 2019 6:06 AM GMT

उन्नाव दुष्कर्म कांड अपडेट : सीबीआई ने जांच लिया अपने हाथ
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

लखनऊ: उन्नाव के दुष्कर्म कांड के बाद रायबरेली में हुए सड़क हादसे में विधायक कुलदीप सिंह सेंगर की मुश्किलें बढ़ती जा रही है है। सीबीआई बुधवार की सुबह रायबरेली पहुंच कर केस डायरी अपने कब्जे में ले लिया है। सीबीआई ने घटना स्थल पर पहुँच कर गहनता से जाँच में जुट गयी है।

सीबीआई घटना स्थल पर पहुंची

उल्लेखनीय है कि पुलिस ने दुष्कर्म के आरोप जेल में बंद विधायक कुलदीप सेंगर एवं अन्य के खिलाफ रायबरेली के गुरबक्शगंज थाने में हत्या का मामला दर्ज किया है। पीड़ित के चाचा की तहरीर पर विधायक कुलदीप सेंगर, उनके भाई मनोज सिंह, विनोद मिश्रा, हरपाल सिंह, नवीन सिंह, कोमल सिंह, अरुण सिंह, ज्ञानेंद्र सिंह, रिंकू सिंह, अवधेश सिंह पर एफआईआर दर्ज कराई गई है। साथ ही 20 अज्ञात लोगों के खिलाफ भी मुकदमा दर्ज कराया गया है। साथ ही सीबीआई ने इस केस को ले लिया है। सीबीआई घटना स्थल पर पहुँच कर जाँच में जुट गयी है।

ये भी देखें: बॉलीवुड ने प्रेमचंद की कहानियों और उपन्यास को जमकर बेचा, लेकिन नहीं हुआ न्याय

भेजा था चीफ जस्टिस को खत

पीड़ित पक्ष ने मामले को लेकर सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस रंजन गोगोई को भी खत भेजा था। यह खत 12 जुलाई,2019 को लिखा गया। पत्र मेंं कहा गया कि उन लोगों के खिलाफ कार्रवाई कीजिए जो हमें धमका रहे हैं। लोग मेरे घर आते हैं, धमकाते हैं और केस वापस लेने की बात कर ये कहते हैं कि ऐसा नहीं किया तो पूरे परिवार को फर्जी केस में जेल में बंद करवा देंगे। पीड़ित परिवार ने मामले में एफआईआर दर्ज कर कार्रवाई का भी निवेदन किया। यह पत्र सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस, इलाहाबाद हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस, प्रमुख सचिव (गृह), पुलिस महानिदेशक, पुलिस महानिरीक्षक, लखनऊ में सीबीआई के प्रमुख और पुलिस अधीक्षक (उन्नाव) को यह पत्र भेजा गया है।

ये भी देखें: जयंती विशेष : मुंशी प्रेमचंद ‘डार्क पीरियड़’ में पैदा हुआ भारत का गोर्की

उल्लेखनीय है कि बीते रविवार को उन्नाव दुष्कर्म कांड की पीड़ित का परिवार अटौरा के पास एक हादसे का शिकार हो गया था। इसमें पीड़ित की चाची और मौसी की मौत हो गई थी, जबकि पीड़ित और उसके वकील की हालत अभी भी नाजुक बनी हुई है। सभी लोग कार से जिला जेल में बंद परिजन से मिलने आ रहे थे।

Roshni Khan

Roshni Khan

Next Story