उन्नाव कांड: पीड़िता के पिता की हत्या के मामले में चार मार्च को आएगा कोर्ट का फैसला

उन्नाव गैंगरेप पीड़िता के पिता की हिरासत में मौत के मामले में दिल्ली की तीस हजारी कोर्ट ने कहा कि, वह अगली तारीख 4 मार्च पर फैसला सुनाएगी। पूर्व विधायक कुलदीप सिंह सेंगर समेत 11 लोग इस हत्या के मामले में आरोपी हैं।

Published by Aditya Mishra Published: February 29, 2020 | 1:47 pm
Modified: February 29, 2020 | 1:55 pm

लखनऊ: उन्नाव गैंगरेप पीड़िता के पिता की हिरासत में मौत के मामले में दिल्ली की तीस हजारी कोर्ट ने कहा कि, वह अगली तारीख 4 मार्च पर फैसला सुनाएगी। पूर्व विधायक कुलदीप सिंह सेंगर समेत 11 लोग इस हत्या के मामले में आरोपी हैं। इस मामले में दिल्ली की अदालत 4 मार्च को अपना फैसला सुनाएगी।

इससे पहले उसपर लगा दुष्कर्म का आरोप भी सिद्ध हो चुका है और फिलहाल वह तिहाड़ जेल में उम्रकैद की सजा भुगत रहा है। उल्लेखनीय है कि जिस युवती के साथ दुष्कर्म के दोष में सेंगर जेल की सजा काट रहा है, उसके पिता की 9 अप्रैल, 2018 को न्यायिक हिरासत में मौत हो गई थी।

उन्नाव रेप केस: बीजेपी ने कुलदीप सिंह सेंगर को पार्टी से किया निष्कासित

रेप केस में दोषी कुलदीप सिंह सेंगर की विधानसभा सदस्यता खत्म

इस मामले की पिछली सुनवाई 20 फरवरी को जिला न्यायाधीश धर्मेश शर्मा की अदालत में बंद कमरे में हुई थी। अदालत ने उसी दिन फैसला सुरक्षित रख लिया था। कयास लगाए जा रहे थे कि आज अदालत की ओर से फैसला सुना दिया जाएगा, लेकिन अब इसकी तारीख बढ़ाकर चार मार्च कर दी गई है।

पिछली सुनवाई में अदालत ने पीड़िता के चाचा, मां, बहन और उसके पिता के एक सहयोगी के बयान दर्ज किए थे। उन्होंने इस घटना में चश्मदीद गवाह होने का दावा किया था। 2019 में अदालत ने 20 दिसंबर को सेंगर को दुष्कर्म मामले में जीवन भर के लिए जेल में रहने की सजा सुनाई थी। यह पीड़िता के पिता की हिरासत में मौत से संबंधित दूसरा मामला है, जिसमें चार मार्च को फैसला आ सकता है।

उन्नाव रेप: आरोपी कुलदीप सेंगर और शशि सिंह को तिहाड़ जेल में शिफ्ट करने का आदेश