सीएम योगी आदित्यनाथः उद्यमियों का स्वागत है, मिलेगा सम्मान और सुरक्षा

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज देश के जाने माने उद्यमियों से मिलकर उनसे यूपी में निवेश का आमंत्रण दिया। मुख्यमंत्री ने उन्हे विश्वास दिलाया कि आप यूपी आइए हम आपको सुरक्षा सम्मान और उद्योग का पूरा माहौल देगें।

Published by Monika Published: December 2, 2020 | 7:05 pm
yogi adityanath

yogi adityanath (file pic )

मुम्बई: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज देश के जाने माने उद्यमियों से मिलकर उनसे यूपी में निवेश का आमंत्रण दिया। मुख्यमंत्री ने उन्हे विश्वास दिलाया कि आप यूपी आइए हम आपको सुरक्षा सम्मान और उद्योग का पूरा माहौल देगें। मुख्यमंत्री ने उन्हे पीपीपी माडल पर मेडिकल कालेज बनाने की भी बात रखी।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि आने वाले कुछ ही वर्षों में उत्तर प्रदेश बुनियादी सुविधाओं के लिहाज से वैश्विक स्तर पर टक्कर लेगा। हमारी आबादी हमारा संसाधन है और आपके लिए बाजार भी। टूरिज्म, चिकित्सा, ‘एक जिला, एक उत्पाद’ और एमएसई सेक्टर में बहुत संभावनाएं हैं।

देश के नामी उद्योगपतियों से बातचीत

यह बातें उन्होंने आज मुंबई के ट्राइडेंट होटल में देश के नामी उद्योगपतियों से बातचीत में कही। साथ ही उन्हें उत्तर प्रदेश में निवेश के लिए आमंत्रित भी किया और प्रदेश में बड़े पैमाने पर किए गए इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट के बारे में भी बताया। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार जेवर (नोएडा) में एशिया का सबसे बड़ी ग्रीन फील्ड एयरपोर्ट बना रही है। पूर्वांचल, पूर्वांचल लिंक, बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे का निर्माण जारी है। करीब 600 किमी लंबा मेरठ से प्रयागराज को जोड़ने वाला गंगा एक्सप्रेस वे जून 2021 से बनना शुरू हो जाएगा। इनके किनारों पर औद्योगिक गलियारे बनाए जाएंगे। हर जिले के एक जिला, एक उत्पाद के लिए क्लस्टर भी बनाएंगे। आप लोग इन सेक्टर्स में भी निवेश कर सकते हैं।

ये भी पढ़ें… फिल्म सिटी: योगी की कवायद पर महाराष्ट्र सरकार में खलबली, ये पार्टियां बिफरीं

पीपीपी मॉडल पर मेडिकल कॉलेज बनाने का विचार

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश के 75 में से कई जिलों में अब भी मेडिकल कॉलेज की आवश्यकता है। इन जिलों में पीपीपी मॉडल पर मेडिकल कॉलेज बनाने के बारे में भी आप विचार कर सकते हैं। प्रदेश के कुछ हिस्सों में सुपर स्पेशियलिटी अस्पतालों की जरूरत है। मसलन, गोरखपुर में नेपाल और बिहार, वाराणसी में भी बिहार से बड़ी संख्या में मरीज आते हैं। ऐसे में इन जगहों पर आप विशिष्ट अस्पताल बनाएं। सरकार आपका हर संभव मदद करेगी।

ये भी पढ़ें: मुंबई में योगी का ऐलान: लखनऊ में नए युग की शुरुआत, अब यहाँ की बारी

इसमें प्रमुख रूप से टाटा संस प्राईवेट लिमिटेड के चेयरमैन एन चंद्रशेखरन, हीरानंदानी ग्रुप के चेयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्टर डॉ. निरंजन हीरानंदानी, केकेआर इंडिया एडवाइजर्स प्राईवेट लिमिटेड के पार्टनर और सीईओ संजय नायर, सिमेंस इंडस्ट्री साफ्टवेयर लिमिटेड के वाइस प्रसिडेंट और एमडी सुप्रकाश चैधरी, एलएंडटी लिमिटेड के सीईओ और एमडी एसएन सुब्रमन्यन, कल्याणी ग्रुप के चेयरमैन बाबा कल्याणी, सेंट्रम कैपिटल लिमिटेड के चेयरमैन जसपाल बिंद्रा, वन 97 कम्यूनिकेशंस लिमिटेड के प्रेसिडेंट अमित नैय्यर, एके कैपिटल सर्विसेज लिमिटेड के डायरेक्टर विकास जैन और एसोसिएट डायरेक्टर वरुण कौशिक और नाबार्ड के चेयरमैन डॉ. गोविंद रूजुलू चिंतला शामिल थे।

श्रीधर अग्निहोत्री

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App