Top

यूपी के डिप्टी सीएम केशव मौर्य,36 मंत्री और 150 विधायकों के घरों की बत्तियां गुल

इसका असर डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्या, ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा, स्वामी प्रसाद मौर्या, मोहसिन रजा, मुकुट बिहारी वर्मा, अनिल राजभर सहित तीन दर्जन से अधिक मंत्रियों के सरकारी आवास की बिजली पर देखने को मिला। इन सभी लोगों के घरों की बिजली गुल हो गई।

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 6 Oct 2020 12:07 PM GMT

यूपी के डिप्टी सीएम केशव मौर्य,36 मंत्री और 150 विधायकों के घरों की बत्तियां गुल
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: इस वक्त की सबसे बड़ी खबर यूपी की राजधानी लखनऊ से आ रही है। अपनी कई मांगों को लेकर बिजली कर्मचारी आज कार्य बहिष्कार पर हैं। इसके चलते विद्युत् सेवा पूरी तरह से चरमा गई है।

सूबे डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्या, ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा सहित तीन दर्जन से अधिक मंत्रियों और करीब 150 विधायक, विधान परिषद सदस्यों के सरकारी आवास सहित राजधानी के तमाम ऑफिसों और कई मुहल्लों में लोगों के घरों की बिजली गुल है।

राजधानी के अधिकांश इलाकों में बिजली गुल होने से शासन स्तर तक हड़कंप मच गया, लेकिन बिजली अभियंताओं ने विद्युत आपूर्ति बहाल करने से इनकार कर दिया। जिसके बाद आनन-फानन मध्यांचल निगम के एमडी सूर्यपाल गंगवार ने निदेशक (तकनीकी) सुधीर कुमार को कूपर रोड उपकेंद्र भेजा गया।

Electricity बिजली के टावर की फोटो(सोशल मीडिया)

यह भी पढ़ें…हाथरस कांड पहुंचा SC: जज करेंगे जांच-UP में राष्ट्रपति शासन, सब पर फैसला आज

वीवीआईपी इलाकों के लिए किया गया वैकल्पिक इंतजाम

तकरीबन दो घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद वैकल्पिक स्त्रोत से बिजली सप्लाई बहाल हुई। तब जाकर डिप्टी सीएम और राजनेताओं के घरों की बिजली आई। लेकिन कई मुहल्लों में बिजली अभी तक नहीं आई है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार लेसा के राजभवन डिवीजन के अंतर्गत कूपर रोड उपकेंद्र में सुबह करीब 11 बजे बिजली गुल हो गई। इसके कारण 5 केडी, माल एवेन्यू, गुलिस्तां कॉलोनी, महिला विधायक आवास, पीडब्ल्यूडी कॉलोनी समेत कई वीआईपी इलाकों की बिजली सप्लाई बंद हो गई।

यह भी पढ़ें…यूपी में रात भर बिजली गुल: कर्मचारियों का आंदोलन हुआ तेज, बिगड़ सकते हैं हालात

ऊर्जा मंत्री को भी जूझना पड़ा बिजली संकट से

इसका असर डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्या, ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा, स्वामी प्रसाद मौर्या, मोहसिन रजा, मुकुट बिहारी वर्मा, अनिल राजभर सहित तीन दर्जन से अधिक मंत्रियों के सरकारी आवास की बिजली पर देखने को मिला। इन सभी लोगों के घरों की बिजली गुल हो गई।

यही नहीं आज 150 से अधिक विधायक, विधान परिषद सदस्य, पूर्व मंत्री, न्यायाधीश व राज्य सरकार के वरिष्ठ अधिकारियों को भी बिजली संकट से जूझना पड़ा। साथ ही मुख्यमंत्री कंट्रोल रूम, समाजवादी पार्टी कार्यालय, कांग्रेस मुख्यालय, वीआईपी गेस्ट हाउस में बिजली न आने की वजह से लोगों को खासा मुसीबतों का सामना करना पड़ा।

Strike बिजलीकर्मियों की हडताल की फोटो(सोशल मीडिया)

अभियन्ता काम पर लौटने को तैयार नहीं

उधर जैसे ही मंत्रियों के घरों और विधायक आवास की बिजली गुल हुई उसके बाद से उपकेंद्र पर फोन आने लगे, लेकिन किसी भी कर्मचारी ने नहीं उठाया।

इस बारे में जैसे ही मध्यांचल निगम के निदेशक (तकनीकी) सुधीर कुमार को जानकारी हुई वे फौरन उपकेंद्र पहुंचे। जिसके बाद उन्होंने करीब दो घंटे की मशक्कत के बाद बिजली सप्लाई फिर से चालू कराई की। लेकिन अभी भी कई इलाकों में बिजली गुल है।

यह भी पढ़ें…बिहार चुनाव: बदली स्थितियों से भाजपा हुई सतर्क, इस पार्टी से दूरी का लिया फैसला

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App

Newstrack

Newstrack

Next Story