सरकार ने अयोध्या में स्थापित किया पहला पर्यटक पुलिस बूथ, जानिए कैसे करेगा काम

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने अयोध्या में पहला पर्यटक पुलिस बूथ स्थापित किया है। अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने बताया कि अयोध्या में पर्यटकों की सुरक्षा व सुविधा के लिए पहला पर्यटक पुलिस बूथ स्थापित किया गया है। इसका उद्घाटन अयोध्या के विधायक वेद प्रकाश गुप्ता ने किया।

लखनऊ: उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने अयोध्या में पहला पर्यटक पुलिस बूथ स्थापित किया है। अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने बताया कि अयोध्या में पर्यटकों की सुरक्षा व सुविधा के लिए पहला पर्यटक पुलिस बूथ स्थापित किया गया है। इसका उद्घाटन अयोध्या के विधायक वेद प्रकाश गुप्ता ने किया।

अवस्थी ने कहा कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के निर्देशों के अनुपालन में अयोध्या जिला में राष्ट्रीय एवं अन्तरराष्ट्रीय पर्यटकों व श्रद्धालुओं की सुख-सुविधा व सुरक्षा आदि को और अधिक सुरक्षित वातावरण प्रदान करने के उद्देश्य से अयोध्या जिले में पर्यटक थाने की स्वीकृति शासन द्वारा प्रदान की गयी थी। अवनीश अवस्थी ने कहा कि अयोध्या के नए घाट चौकी में पहला पर्यटक पुलिस बूथ स्थापित किया गया है।

यह भी पढ़ें…राम मंदिर पर सुप्रीम कोर्ट ने खारिज की सभी पुनर्विचार याचिकाएं, अब नहीं खुलेगा केस

इस पर्यटक बूथ में एक सब इंस्पेक्टर, एक-एक महिला व पुरुष सिपाही तैनात किये गये हैं। इसके साथ ही सीओ सिटी अरविंद चौरसिया व सीओ अयोध्या अमर सिंह को पर्यटकों की सुविधा व सुरक्षा की जिम्मेदारी विशेष रूप से दी गयी है।

यह भी पढ़ें…‘CAB’ के खिलाफ SC में याचिका दाखिल,ये दिग्गज वकील लड़ेंगे केस

उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के अयोध्या प्रकरण के फैसले के बाद पर्यटकों की संख्या में निरंत बढ़ोत्तरी हो रही है, जिसको देखते हुए जनपद अयोध्या में आने वाले पर्यटकों की सुरक्षा एवं सुविधा का विशेष रूप से ध्यान रखते हुए पर्यटक थाने की स्थापना की गयी है।

यह भी पढ़ें…CAB पर पूर्वोत्तर में बढ़ा तनाव, इंटरनेट बंद, फ्लाइटें रद्द, जानें दिनभर के बड़े अपडेट्स

अपर मुख्य सचिव गृह ने अयोध्या में आने वाले पर्यटकों के आवागमन में किसी भी प्रकार की असुविधा न हो इसके लिए पुलिस अधिकारियों को निर्देशित किया। उन्होंने कहा कि पर्यटकों की समस्याओं को प्राथमिकता के आधार पर सुनते हुए संबंधित अधिकारी व कर्मचारीगण उसका निस्तारण सुनिश्चित करें।