×

कोरोना कहर: लखनऊ में बढ़ रहे मरीज, नहीं हो रहा गाइडलाइन का पालन

वैश्विक महामारी कोविड-19 एक बार फिर से राजधानी लखनऊ में हावी होती दिख रही है। बीते 02 दिनों से नए संक्रमितों के मिलने की संख्या एक बार फिर बढ़ने लगी है। ऐसे में दीपावली के त्यौहार पर बाजारों में उमड़ी भीड़ द्वारा कोरोना गाइडलाइन का पालन न किए जाने से इसके और ज्यादा बढ़ने की आशंका जताई जा रही है।

Monika

MonikaBy Monika

Published on 13 Nov 2020 4:02 AM GMT

कोरोना कहर: लखनऊ में बढ़ रहे मरीज, नहीं हो रहा गाइडलाइन का पालन
X
फिर बढ़ने लगे राजधानी लखनऊ में कोविड़ मरीज
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

लखनऊ। वैश्विक महामारी कोविड-19 एक बार फिर से राजधानी लखनऊ में हावी होती दिख रही है। बीते 02 दिनों से नए संक्रमितों के मिलने की संख्या एक बार फिर बढ़ने लगी है। ऐसे में दीपावली के त्यौहार पर बाजारों में उमड़ी भीड़ द्वारा कोरोना गाइडलाइन का पालन न किए जाने से इसके और ज्यादा बढ़ने की आशंका जताई जा रही है। हालांकि इस बढ़ती संख्या और त्यौहारों को देखते हुए फोकस सैम्पलिंग को बढ़ाया जा रहा है। आज से राजधानी में बर्तन विक्रेताओ, मिठाई विक्रेताओं के साथ ही एयरपोर्ट, रेलवे स्टेशन और बस स्टाप पर भी स्क्रीनिंग और सैम्पलिंग की जायेगी।

बीते 24 घंटों में लखनऊ में 315 नए मरीज

बीते 24 घंटों में लखनऊ में 315 नए मरीजों का पता चला है जबकि 4 लोगों की मृत्यु हुई है, इस दौरान पूरे प्रदेश में 21 लोगों की मौत तथा 2278 नये मरीज पाये गये हैं। लखनऊ में आज 235 लोगों को ठीक होने के बाद डिस्चार्ज किया गया है। जबकि इस समय सक्रिय संक्रमितों की संख्या 3130 है। यह लगातार दूसरा दिन है जब लखनऊ में मरीजों की संख्या बढ़ रही है 10 नवंबर को लखनऊ में नए मरीजों की संख्या 171 थी, इसके बाद 11 नवंबर को यह संख्या छलांग लगाकर 294 पहुंच गई और आज 12 नवंबर को यह संख्या 300 का आंकड़ा पार करते हुए 315 पर पहुंच गई।

ये भी पढ़ें: नीतीश का बड़ा हमलाः चिराग पर कार्रवाई की बीजेपी को चुनौती

देखने में यह वृद्धि भले ही मामूली लग रही हो लेकिन कुछ प्रदेशों और शहरों में दूसरी लहर के मद्देनजर बढ़ते हुए आंकड़े चिंता पैदा करते हैं। आजकल त्योहारों का सीजन चल रहा है बाजारों में सोशल डिस्टेंसिंग और उस पर नजर रखने वालों की सक्रियता दूर-दूर तक नजर नहीं आती है। जबकि सरकार और विशेषज्ञ बार-बार इस खतरे से लोगों को आगाह कर रहे हैं।

यूपी सरकार की रिपोर्ट

गुरुवार को जारी यूपी सरकार की रिपोर्ट के मुताबिक राज्य में 21 मौतों में सर्वाधिक 04 मौतें राजधानी लखनऊ में ही हुई हैं, इसके अलावा मेरठ में 03, आगरा में 02 तथा कानपुर नगर, गौतम बुद्ध नगर, झांसी, लखीमपुर खीरी, मुजफ्फरनगर, हरदोई, मथुरा, गाजीपुर, सोनभद्र, पीलीभीत, कौशांबी और बागपत में एक-एक व्यक्ति की मौत हुई है। 2278 नए संक्रमित मरीजों में लखनऊ 315 मरीजों के साथ फिर से टाप पर पहुंच गया है। इसके अलावा गौतम बुद्ध नगर में 214, मेरठ में 160 तथा गाजियाबाद में 145 मरीज मिले हैं।

ये भी पढ़ें: बिकरू कांडः SSP अनंत देव निलंबित, दिनेश पी को नोटिस, SIT रिपोर्ट पर एक्शन

जबकि 50 से कम नए संक्रमित मरीज मिलने वाले जिलों में कानपुर में 84, प्रयागराज में 80, वाराणसी में 50, झांसी में 59 तथा आगरा में 68 शामिल है। प्रदेश के बाकी जिलों में नए मिलने वाले मरीजों की संख्या 50 से कम है। इस अवधि में प्रदेश में कुल 1870 लोगों को ठीक होने के बाद डिस्चार्ज किया गया, जबकि इस समय सक्रिय मरीजों की संख्या 22 हजार 949 है।

मनीष श्रीवास्तव

Monika

Monika

Next Story