सैल्यूट: थाने में वो काम किया कि दिल जीत ले गए दरोगा बाबू

मामला बल्दीराय थाने पर फरियाद लेकर आई दलित महिला से जुड़ा है। जिसकी गोद मे नन्हा बच्चा रोए जा रहा था और पीड़ित महिला अपनी फरियाद कहे जा रहे थी।

सैल्यूट: थाने में वो काम किया कि दिल जीत ले गए दरोगा बाबू

सैल्यूट: थाने में वो काम किया कि दिल जीत ले गए दरोगा बाबू

सुल्तानपुर: यूपी पुलिस अक्सर करके किसी न किसी कारनामों से चर्चा में होती है। ऐसे में अगर कोई वर्दी धारी मानवता के क़दम उठाले तो तारीफ तो बनती है। नवागत थानाध्यक्ष बल्दीराय आकाश पवार उन्हीं तारीफ वाले वर्दीधारियों में एक हैं। जनता के मन से पुलिस का डर निकाल उन्हें पुलिस के क़रीब करने का जो क़दम उठाया है उसकी अब जमकर सराहना हो रही है।

यह भी पढ़ें: होटल की छत पर बना ये है दुनिया का सबसे लंबा स्वीमिंग पूल, जानिए कहां है और कैसे लेंगे इसका मजा

मामला बल्दीराय थाने पर फरियाद लेकर आई दलित महिला से जुड़ा है। जिसकी गोद मे नन्हा बच्चा रोए जा रहा था और पीड़ित महिला अपनी फरियाद कहे जा रहे थी। अचानक कुछ ऐसा हुआ कि वहां का स्टाफ और पीड़ित और कुछ पीड़ित फरियादी जो थाने में मौजूद थे सब हक्काबक्का रहे गए। थानाध्यक्ष आकाश पवार ने रोते बच्चे को अपनी गोद मे लिया और उसे चुप करवाया। दरोगा ने टॉफी व बिस्किट भी मंगाकर बच्चे को दिया और पीड़ितों की फरियाद सुनते रहे।

यह भी पढ़ें: आज है हरिशयनी एकादशी, व्रत करने से होंगे पाप नष्ट, खुलेगा मोक्ष का द्वार

थानाध्यक्ष के इस तरह कार्य करने की शैली और मानवीयता को देख क्षेत्र में चहुओर चर्चा बनी हुई है। क्षेत्र वासियो में खुशी है कि अब खाकी का खौफ दबंगो पर होगा, जनता में नही। जनता सुख मय जीवन और दबंग अफरा-तफरी में होंगे। किसी भी फरियादी को अब थाने में जाने के लिए डर भय नही होगा। मित्र पुलिस की असलियत उजागर कर थानाध्यक्ष बल्दीराय ने जनता और पुलिस को एक धागे में जोड़ने की शुरुआत की है जो पुलिसिंग के लिए मिसाल है।

यह भी पढ़ें: 12 जुलाई: कैसा रहने वाला है शुक्रवार, जानने के लिए देखें यहां पंचांग व राशिफल

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App