CAA प्रदर्शन: सपा सांसद समेत 267 लोगों के खिलाफ FIR दर्ज, लगा ये बड़ा आरोप

नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ हो रहे प्रदर्शन ने अब हिंसक रूप भी ले लिया है। गुरुवार को उत्तर प्रदेश के संबल और राजधानी लखनऊ में जमकर बवाल हुआ। प्रदर्शनकारियों ने संभल में बसों को फूंक दिया, तो वहीं लखनऊ में प्रदर्शनकार्रियों ने पुलिस की गाड़ियों में तोड़फोड़ की।

नई दिल्ली: नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ हो रहे प्रदर्शन ने अब हिंसक रूप भी ले लिया है। गुरुवार को उत्तर प्रदेश के संबल और राजधानी लखनऊ में जमकर बवाल हुआ। प्रदर्शनकारियों ने संभल में बसों को फूंक दिया, तो वहीं लखनऊ में प्रदर्शनकार्रियों ने पुलिस की गाड़ियों में तोड़फोड़ की, गाड़ियां फूंक दी, बसों और थाने में लगा दी। इस प्रदर्शन में एक वकील की मौत हो गई।

लखनऊ में हुई हिंसा में पुलिस ने कड़ी कार्रवाई की है, अभी तक 150 लोगों को गिरफ्तार किया गया है जबकि 19 FIR दर्ज की गई हैं। उत्तर प्रदेश के संभल में भी 17 नामजद, 250 अज्ञात लोगों के खिलाफ केस रजिस्टर किया गया है। इसके अलावा हिंसा के मामले में पुलिस ने समाजवादी पार्टी के सांसद शफीकुर्रहमान बर्क के खिलाफ भी केस दर्ज किया है।

यह भी पढ़ें…झारखंड में आखिरी चरण का मतदान, इनकी किस्मत दांव पर, PM मोदी ने की ये अपील

पुलिस ने दावा किया है कि गुरुवार को प्रदेश के विभिन्न जिलों में पुलिस ने हिंसक प्रदर्शन को रोकने के लिए 3305 लोगों को हिरासत में लिया गया। वहीं सोशल मीडिया के अलग-अलग प्लेटफार्म पर किए गए आपत्तिजनक, भ्रामक पोस्ट, मैसेज के संबंध में प्रदेश में कुल 13 अभियोग पंजीकृत किए गए और 5 लोगों को गिरफ्तार किया गया। 1786 ट्विटर पोस्ट और 3037 फेसबुक व 38 यूट्यूब पोस्ट को हटाने के लिए सर्विस प्रोवाइडर से संपर्क किया गया है।

यह भी पढ़ें…जवानों को अकेले पाकर टूट पड़े दंगाई, तस्वीरें देखकर खौल जाएगा खून

हिंसा पर भड़के सीएम योगी आदित्यनाथ ने उपद्रवियों की संपत्तियां जब्त कर उनसे सावर्जनिक संपत्ति को हुए नुकसान का हर्जाना वसूलने का आदेश दिया है। सीएम योगी ने कहा कि वह खुद इन हिंसक वारदातों की समीक्षा कर रहे हैं।

उपद्रवियों के चेहरे वीडियोग्राफी और सीसीटीवी में कैद हो चुके हैं। सभी पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने शांति की अपील की है और अफवाह फैलाने वालों पर निगरानी के निर्देश दिए हैं।

यह भी पढ़ें…CAA: विरोध की आग में जला तहजीब का शहर, जानें दिनभर कहां क्या हुआ?

संभल हिंसा में मिली जानकारी के मुताबिक 2 केस दर्ज किए गए हैं। इसमें एक मामला चौधरी सराय पुलिस चौकी पर पथराव और तोड़फोड़ का है। इसमें सपा सांसद सहित 17 लोग नामजद हैं, वहीं दूसरे मामले में बसों में तोड़फोड़ और आगजनी की एफआईआर दर्ज की गई है। इसके अलावा अब तक 30 को गिरफ्तार किया गया है।