वाराणसी में फ्लॉप तांडव: काशी के संतों ने क्यों ‘तरेरी’ आंखें, सैफ अली खां पर गुस्सा

काशी के संतों ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से फिल्म पर रोक लगाने की मांग की। हवन कुंड में शामिल साध्वी गिताम्बा ने बताया कि बॉलीवुड फिल्मों में हिंदू धर्म के देवताओं को अपमानित करने का ट्रेंड चल पड़ा है।

Published by Roshni Khan Published: January 17, 2021 | 4:26 pm
varanasi-matter

वाराणसी में फ्लॉप तांडव: काशी के संतों ने क्यों 'तरेरी' आंखें, सैफ अली खां पर गुस्सा (PC: social media)

वाराणसी: बॉलीवुड फिल्मों और विवाद का नाता कोई नया नहीं है। इस बार कुछ नया है तो सिर्फ फिल्म। तांडव। सैफ अली खान की यही वह फिल्म है है जिसे लेकर देश में हंगामा शुरु हो गया है। हंगामे की गूंज धर्म नगरी वाराणसी में भी सुनाई दी। यहां पर साधु-संतों ने फिल्म तांडव के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। संतों ने बुद्धी-शुद्धी यज्ञ करते हुए फिल्म के पोस्टर जलाए और बड़े आंदोलन की जमीन तैयार कर दी।

ये भी पढ़ें:रामभक्त अक्षय कुमार: मंदिर निर्माण में दिया योगदान, सभी से की ये अपील

संतों ने की सीएम योगी आदित्यनाथ से अपील

काशी के संतों ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से फिल्म पर रोक लगाने की मांग की। हवन कुंड में शामिल साध्वी गिताम्बा ने बताया कि बॉलीवुड फिल्मों में हिंदू धर्म के देवताओं को अपमानित करने का ट्रेंड चल पड़ा है। संत समाज ऐसी फिल्मों को कतई बर्दाश्त नहीं करेगा। सनातन धर्म की रक्षा के लिए अगर सड़क पर भी उतरना पड़े तो साधु पीछे नहीं हटेंगे। दरअलल जैसे ही यह फिल्म रिलीज हुई फिल्म के इस हिस्से पर काशी के संतों की तरफ से विरोध के स्वर फूट पड़े। विरोध इतना ज्यादा है कि फिल्मी कलाकारों के खिलाफ बुद्धि-शुद्धि यज्ञ किया गया। फिल्म के इस सीन को लेकर रविदास घाट स्थित गिताम्बा तीर्थ एक मठ में साध्वी गीता मां के नेतृत्व में संत ने एक बैठक की।

ये भी पढ़ें:भीम सेना पर भड़की रिचा चड्ढा, जीभ काटने के ऐलान पर दिया ये जवाब

फिल्म को लेकर क्या है संतों की आपत्ति

ओटीटी प्लेटफॉर्म पर रिलीज हुई तांडव फिल्म को लेकर बवाल शुरू हो गया है। बवाल की वजह है तांडव फिल्म का एक सीन है। फ़िल्म तांडव के इस सीन में स्टेज पर दो कलाकार आपस में एक ड्रामा कर रहे हैं, उसी दरमियान कलाकार जीशान अय्यूब के द्वारा एक डायलॉग बोला जाता है। इस डायलॉग में भगवान राम और भगवान शिव को लेकर के बातें की गई है। जिसमे कहा गया है कि भगवान राम आजकल डिमांड में है, महादेव आप कुछ करिये। इसके अलावा जेएनयू की तरह इस फ़िल्म में भी आज़ादी सम्बंधित नारे लागये गए हैं। जिसमें आपत्तिजनक बातें की जाती है। अब फिल्म का यह सीन विवाद की जड़ बनता जा रहा है।

रिपोर्ट- आशुतोष सिंह

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App