Top

रोएगा मुख्तार अंसारी: करीबी भाई मेराज पर कसा शिकंजा, हो गया तगड़ा एक्शन

बाहुबली विधायक मुख़्तार अंसारी के खिलाफ पुलिस का शिकंजा लगातार बढ़ता जा रहा हैं। मऊ और गाज़ीपुर के बाद अब वाराणासी में भी मुख्तार के करीबियों की अवैध सम्पत्ति पर सरकार की नजर हैं।

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 5 Nov 2020 2:29 PM GMT

रोएगा मुख्तार अंसारी: करीबी भाई मेराज पर कसा शिकंजा, हो गया तगड़ा एक्शन
X
मुख्तार अंसारी के करीबी भाई मेराज पर कसा शिकंजा, वीडीए ने ध्वस्त किया अवैध निर्माण
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

वाराणसी: बाहुबली विधायक मुख़्तार अंसारी के खिलाफ पुलिस का शिकंजा लगातार बढ़ता जा रहा हैं। मऊ और गाज़ीपुर के बाद अब वाराणासी में भी मुख्तार के करीबियों की अवैध सम्पत्ति पर सरकार की नजर हैं। इसी कड़ी में पूर्वांचल में बाहुबली के दाहिने हाथ माने जाने वाले मेराज अहमद के घर पर वाराणासी विकास प्राधिकरण ने धावा बोला। हाल ही में सरेंडर करने वाले मेराज अहमद उर्फ़ भाई मेराज के घर गुरुवार को वाराणसी विकास प्राधिकरण (वीडीए) ने अवैध निर्माण की ध्वस्तीकरण की कार्रवाई की। मेराज अहमद के मकान के पिछले हिस्से में अवैध निर्माण किया गया था, जिसके सम्बन्ध में दो महीना पहले वीडीए ने नोटिस दी थी।

ये भी पढ़ें: हिल उठा मुख्तार अंसारी: एक और बड़ी कार्यवाही, करोड़ों की ईमारत धवस्त

वीडीए ने जारी किया था नोटिस

इस सम्बन्ध में वीडीए के अधिकारी परमानंद यादव ने बताया कि मेराज अहमद के मकान सोनी मंज़िल, हॉउस नंबर 435 अशोक विहार कालोनी, फेज़-1 के पिछले हिस्से में अवैध निर्माण कराया गया था। उन्होंने बताया कि इस सम्बन्ध में वीडीए द्वारा दो महीना पहले नोटिस जारी किया गया था। नोटिस जारी होने के बाद खुद से अवैध निर्माण का ध्वस्तीकरण न करवाने के कारण आज वीडीए अवैध निर्माण के ध्वस्तीकरण की कार्रवाई कर रहा है। इस दौरान सीओ चेतगंज संतोष कुमार मीणा और जैतपुरा थाना प्रभारी शशिभूषण राय भारी पुलिस फ़ोर्स के साथ मौजूद रहे।

ये भी पढ़ें: हिंसा में बदला अमेरिका: जीत की ओर बढ़ रहे बाइडेन, तेज हुआ प्रदर्शन

योगी सरकार के निशाने पर हैं मुख्तार अंसारी

मऊ सदर से बीएसपी विधायक मुख्तार अंसारी पिछले कुछ महीनो से यूपी सरकार के निशाने पर हैं. मऊ के अलावा गाज़ीपुर, जौनपुर के साथ ही लखनऊ में मुख़्तार अंसारी के करीबी लोगों पर शिकंजा कसा जा रहा है. हाल ही में गाज़ीपुर में मुख्तार की पत्नी के नाम से बने गजल होटल को स्थानीय प्रशासन ने ध्वस्त कर दिया था. यही नहीं लखनऊ में बने मुख्तार कर आशियाने को तोड़ा जा चुका है।

Newstrack

Newstrack

Next Story