×

पत्थरबाजी से दहला यूपी: राजा भईया के इलाके में हुआ बवाल, झड़प में कई घायल

यहां कुण्डा में सैकड़ों लोगों ने लखनऊ प्रयागराज मार्ग को सड़क जाम कर दिया। प्रदर्शनकारियों को पुलिस करीब एक घण्टे समझाती रही। वहीं विरोध करने वालों की पुलिस से झड़प हो गई। इस बीच पुलिस ने लाठी चार्ज भी किया। प्रदर्शनकारियों को पुलिस ने डंडे के दम पर भगाया। पूरा मामला कुण्डा कस्बे का है।

Shivakant Shukla

Shivakant ShuklaBy Shivakant Shukla

Published on 29 Jan 2020 10:16 AM GMT

पत्थरबाजी से दहला यूपी: राजा भईया के इलाके में हुआ बवाल, झड़प में कई घायल
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

प्रतापगढ़: देश की राजधानी दिल्ली के शाहीन बाग में हो रहे प्रदर्शन के बीच एक बार फिर उसकी हवा यूपी तक पहुंच गई है। जहां उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के घंटाघर में करीब एक महीने से नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के खिलाफ महिलाओं का प्रदर्शन जारी है। वहीं बुधवार को यूपी के प्रतापगढ़ जिले में NRC और CAA के विरोध में बवाल देखने को मिला।

पूरा मामला कुण्डा कस्बे का

यहां कुण्डा में सैकड़ों लोगों ने लखनऊ प्रयागराज मार्ग को सड़क जाम कर दिया। प्रदर्शनकारियों को पुलिस करीब एक घण्टे समझाती रही। वहीं विरोध करने वालों की पुलिस से झड़प हो गई। इस बीच पुलिस ने लाठी चार्ज भी किया। प्रदर्शनकारियों को पुलिस ने डंडे के दम पर भगाया। पूरा मामला कुण्डा कस्बे का है।

ये भी पढ़ें—प्रेग्नेंट महिलाओं के लिए मोदी कैबिनेट का बड़ा फैसला, अब गर्भपात पर बनेगा ये कानून

इस दौरान एक सिपाही को चोट भी लगी, जिसके बाद भगदड़ से मच गई। पुलिस ने प्रदर्शनकारियों की जम कर की पिटाई भी की है। जानकारी के अनुसार NRC और CAA के विरोध में प्रदर्शनकारी सुबह से ही हंगामा कर रहे थे। सरकार विरोधी और देश विरोधी नारेबाजी कर रहे थे।

बाहुबली विधायक रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजा भईया का है इलाका

हालांकि स्थिति गंभीर होते देख मौके पद भारी फोर्स तैनात कर दिया गया है। हिंसक प्रदर्शन को देखते हुए व्यापारी बाजार बंद कर भाग गए। भारी पुलिस बल बाजार में मौजूद है। फिलहाल अब स्थिति काबू में है। बता दें कि जनसत्ता दल के प्रमुख और बाहुबली विधायक रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजा भईया भी यहीं के ही रहने वाले हैं।

ये भी पढ़ें—इमरान को लगा इंजेक्शन: तो पाकिस्तानी नर्स के प्यार में हुए पागल, वो बन गई हूर

बंगाल में भी हुआ हिंसक विरोध

बताते चलें कि नागरिकता संशोधन कानून को लेकर जारी विरोध आक्रामक हो गया है। दरअसल, सीएए और एनआरसी को लेकर बंद का आह्वान किया गया है। इसी कड़ी में पश्चिम बंगाल में बंद के दौरान प्रदर्शनकारियों पर गोली चला दी गयी। जिससे दो लोगों की मौत हो गयी, वहीं तीन गंभीर तौर पर घाली हो गये। बताया जा रहा है कि तृणमूल कांग्रेस के ब्लॉक प्रमुख ने प्रदर्शनकारियों पर गोली चलाई है। वहीं उग्र प्रदर्शनकारियों ने दो पाहियाँ वाहनों और कारों में आग लगा दी।

Shivakant Shukla

Shivakant Shukla

Next Story