×

हम NPR, CAA और NRC का हम हमेशा से विरोध करते रहेंगे- मौलाना यासूब अब्बास

मंगलवार को शिया पर्सनल लॉ बोर्ड के राष्ट्रीय प्रवक्ता मौलाना यासूब अब्बास ने बागी तेवर दिखाते हुए कहा कि हम एनपीआर, सीएए और एनआरसी का हम हमेशा से विरोध करते रहे और करते रहेगे।

SK Gautam

SK GautamBy SK Gautam

Published on 14 Jan 2020 1:48 PM GMT

हम NPR, CAA और NRC का हम हमेशा से विरोध करते रहेंगे- मौलाना यासूब अब्बास
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

अमेठी: राजनीतिक दलों के साथ-साथ धर्म गुरू भी सरकार के फैसले के खिलाफ खुलकर बोलने लग गए हैं। मंगलवार को शिया पर्सनल लॉ बोर्ड के राष्ट्रीय प्रवक्ता मौलाना यासूब अब्बास ने बागी तेवर दिखाते हुए कहा कि हम एनपीआर, सीएए और एनआरसी का हम हमेशा से विरोध करते रहे और करते रहेगे। मौलाना यहां मुसाफिरखाना के भनौली गांव में ईरान के जनरल कासिम सुलेमानी की शहादत की याद में आयोजित मजलिस के कार्यक्रम में पहुंचे थे। उन्होंने और उनके साथ ग्रामीणों ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप की फोटो लगे पोस्टर को पैर से रौंदकर आक्रोश जाहिर किया।

ये भी देखें : पाकिस्तान में आर्मी चीफ बाजवा ने PM इमरान का किया तख्तापलट! ये है बड़ा सबूत

अमेरिका अब सुपर पावर नही

मौलाना ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि क़ासिम सुलेमानी की शहादत को याद करते हुए मौलाना ने कहा कि वो ये समझते हैं के हमने क़त्ल कर दिया शहीद कर दिया तो ये अमेरिका की भूल है, आज अमेरिका को मुंह छिपाने का रास्ता नही मिल रहा है। अमेरिका शहीद क़ासिम सुलेमानी और उनके साथियों को मारकर समझ रहा था हमने बहुत बड़ी उपलब्धि की है, वो मैदाने जंग में मारते, ललकार कर हमला करते। लेकिन छुपकर पीठ पर वार किया है तो सुपर पावर अमेरिका नही रहा।

सुपर पावर अमेरिका तब होता जिस वक़्त मैदान में आता और मैदान में हमला करता। उन्होंने भारत सरकार से मांग की है के सरकार अमेरिका पर दबाव बनाए के अमेरिका जिस तरीके की हरकतें कर रहा है ऐसे में हिंदुस्तान सरकार अमेरिका का साथ न दे ईरान का साथ दे। ईरान और हिंदुस्तान के पुराने रिश्ते रहे हैं इसलिए हिंदुस्तान ईरान का साथ दे।

ये भी देखें : पीओके का बड़ा राज: भारत क्या पाकिस्तान भी नही जानता होगा इस सच्चाई को

JNU में पुलिस ने की गुण्डागर्दी

देश के इस वक़्त के सबसे बड़े जेएनयू मुद्दे को भी मौलाना ने अछूता नही छोड़ा। उन्होंने कहा कि दिल्ली पुलिस की भूमिका संदिग्ध है। पुलिस ने वहां जो गुण्डागर्दी की है बाकायदा उन पुलिस वालों के खिलाफ कार्यवाही होनी चाहिए, एफआईआर होना चाहिए और जो दोषी हैं उन्हें जेल जाना चाहिए।

मौलाना ने छात्रों का समर्थन करते हुए कहा कि, क्योंकि छात्रों का जो विरोध प्रदर्शन है वो पूरी तरीके से बिल्कुल जायज है। स्टूडेंट जो होता है वो मुल्क का मुस्तकबिल होता है मुल्क का फ्यूचर होता है। कल यही वजीरे आजम बनता है, चीफमिनिस्टर बनता है, आईएस आईपीएस बनता है। मुल्क को यही यूथ चलाते हैं। उन्होंने कहा कि

SK Gautam

SK Gautam

Next Story