×

सीएम योगी ने रवि रंजना पाल की जमकर की तारीफ, बोले— महिला सुरक्षा, सम्मान...

महिला दिवस पर आज पूरे देश में कई कार्यक्रम किए जा रहे हैं। अपने—अपने क्षेत्र में सार्थक योगदान दे रही महिलाओं को याद किया जा रहा है।

raghvendra
Published on: 8 March 2021 9:35 AM GMT
सीएम योगी ने रवि रंजना पाल की जमकर की तारीफ, बोले— महिला सुरक्षा, सम्मान...
X
फोटो— सोशल मीडिया
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

लखनऊ। महिला दिवस पर आज पूरे देश में कई कार्यक्रम किए जा रहे हैं। इस मौके पर अपने क्षेत्र में सार्थक योगदान दे रहीं महिलाओं को याद किया जा रहा है। इसी के तहत महिलाओं के सम्मान में आयोजित एक कार्यक्रम में बोलते हुए बतौर मुख्य अतिथि योगी आदित्यनाथ ने रवि रंजना पाल की जमकर तारीफ की। उन्होंने कहा कि रवि रंजना पाल झांसी से जुड़ी हुई हैं। वह गांव से हैं, जिसके चलते वह मंच पर भावुक हो गईं लेकिन उनकी सफलता एक मिसाल है। उन्होंने कहा वर्ष 2019 में मैं झांसी गया था। उस समय बुंदेलखंड सूखे से त्रस्त रहता था। हमने चार वर्षों में बुंदेलखंड को सूखा से बचाने के लिए बड़ा काम किया।

बलिनी मिल्क योजना से बदली सूरत

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री की हर घर नल की योजना से आज बुंदेलखंड के हर घर को पानी मिल रहा है। उन्होंने कहा कि बुंदेलखंड में वर्ष 2019 में बलिनी मिल्क योजना शुरू की गई थी। लेकिन आपको यह जानकर आश्चर्य होगा कि बलिनी मिल्क ने एक वर्ष में 46 करोड़ का टर्न ओवर किया है ओर दो करोड़ रुपए का नेट प्राफिट भी किया है। रवि रंजना पाल बलिनी मिल्क उत्पादन संगठन से जुड़ी हुई हैं, जिन्होंने नारी गरिमा का मान बढ़ाया है। महिला सुरक्षा, सम्मान और स्वावलंबन से महिलाएं निरंतर विकास का नया आयाम गढ़ रही हैं।

इसे भी पढ़ें: बेटे की चाहत में बिगड़ रहे लिंगानुपात, नेशनल फैमिली हेल्थ सर्वे में बड़ा खुलासा

इस संदर्भ में झांसी के डीएम आंद्रा वामसी से बात करने पर उन्होंने कहा कि अच्छा लगता है जब कोई अपनी मेहनत के बदौलत अपना मुकाम हासिल करता है। झांसी प्रशासन की तरफ से स्वावलंबन के क्षेत्र में काम कर रहे लोगों की हर संभव मदद की जाती है। इसी का नतीजा है कि झांसी निरंतर विकास के पथ पर आगे बढ़ रहा है। सरकारी योजनाओं का लाभ मिलने की वजह से यहां के लोगों का पलायन रुका है। लोगों को अब अपने गांव व शहर ही रोजगार मिल रहा है।

इसे भी पढ़ें: विश्व की ये दिग्गज महिला राष्ट्रपति, जाने कैसा रहा इनका राजनीतिक सफर

raghvendra

raghvendra

राघवेंद्र प्रसाद मिश्र जो पत्रकारिता में डिप्लोमा करने के बाद एक छोटे से संस्थान से अपने कॅरियर की शुरुआत की और बाद में रायपुर से प्रकाशित दैनिक हरिभूमि व भाष्कर जैसे अखबारों में काम करने का मौका मिला। राघवेंद्र को रिपोर्टिंग व एडिटिंग का 10 साल का अनुभव है। इस दौरान इनकी कई स्टोरी व लेख छोटे बड़े अखबार व पोर्टलों में छपी, जिसकी काफी चर्चा भी हुई।

Next Story