×

मनरेगा में बिना मास्क के काम कर रहे मजदूर, नाबालिग भी कर रहे मजदूरी

कोरोना महामारी के दौरान सरकार ने मजदूरों को काम देने के लिए मनरेगा योजना को तेज गति दी। योजना के तहत जिले के भी हर ब्लॉकों में मनरेगा के तहत कार्य कराया जा रहा है।

Ashiki
Updated on: 28 May 2020 5:04 AM GMT
मनरेगा में बिना मास्क के काम कर रहे मजदूर, नाबालिग भी कर रहे मजदूरी
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

रायबरेली: कोरोना महामारी के दौरान सरकार ने मजदूरों को काम देने के लिए मनरेगा योजना को तेज गति दी। योजना के तहत जिले के भी हर ब्लॉकों में मनरेगा के तहत कार्य कराया जा रहा है। ताकि लॉकडाउन में श्रमिकों को रोजगार मुहैया कराया जा सके। इसके विपरीत सरकार की योजना में नाबालिगों के हाथ में फावड़ा देखने को मिला है जिसने जिला प्रशासन की पोल खोलकर रख दिया है।

ये भी पढ़ें: दिल्ली के एक मशरूम किसान ने 10 प्रवासी मजदूरों को हवाई जहाज से उनके घर बिहार भेजा

कॉपी-किताब वाले हाथों में मजदूरी का फावड़ा

जिले के ऊंचाहार तहसील में प्रशासन के निर्देश पर सभी ग्राम पंचायतों में नाले एवं तालाबों की खुदाई का काम जॉब कार्ड धारकों से लिया जा रहा है। हैरान करने वाली बात ये कि ग्राम प्रधान जॉब कार्ड धारकों के साथ-साथ 13 से 17 वर्ष के बीच के नाबालिग बच्चों से भी मनरेगा के तहत काम ले रहे हैं। जिन बच्चों के हाथों में कॉपी और किताब होना चाहिए उनके हाथों में फावड़ा थमा दिया गया है।

[video width="352" height="640" mp4="https://newstrack.com/wp-content/uploads/2020/05/VID-20200528-WA0009-2.mp4"][/video]

ये भी पढ़ें: महाराष्ट्रः अमरावती के कई ग्रामीण इलाकों में पानी की किल्लत

सेनेटाइजर और साबुन का भी नही है बंदोबस्त

गौरतलब हो कि रोहनिया ब्लॉक के ग्रामसभा इटैली के ग्राम प्रधान पति द्वारा गांव के पास तालाब सौन्दरीकरण का कार्य मनरेगा के तहत करवाया जा रहा है। तालाब की खुदाई में लगभग सैकड़ों की संख्या में मजदूर कार्य कर रहे है। काबिले ग़ौर बात ये कि सरकारी काम में ही सरकार की एडवाइजरी की खुलकर धज्जियां उड़ रही हैं। किसी भी मजदूर के चेहरे पर न ही मास्क है और न ही सोशल डिस्टेंसिग का पालन हो रहा है। यही नही हैंडवाश के लिए सेनेटाइजर और साबुन का भी बंदोबस्त नही है।

[video width="352" height="640" mp4="https://newstrack.com/wp-content/uploads/2020/05/VID-20200528-WA0010-2.mp4"][/video]

रिपोर्ट: नरेंद्र

ये भी पढ़ें: बंगाल में फिर आंधी-तूफान ने मचाया कहर, कई मकान ढहे, बिजली के खंभे गिरे

वैज्ञानिकों का बड़ा दावा: कोरोना मरीजों के इलाज में कारगर हो सकती हैं ये दो दवाएं

Ashiki

Ashiki

Next Story