प्यार में था पागल! नहीं मिली तो ऐसे ली जान, कहानी है दु:खभरी   

युवक,  युवती पर शादी के लिए दबाव बनाने लगा, लेकिन युवती ने युवक के प्रस्ताव को ठुकरा दिया। इस पर युवक, बिना कुछ कहे युवती को गोली मारकर कार से फरार हो गया। अचानक हुई इस वारदात से युवती के घर वाले कुछ समझ नहीं पाए और बेटी को लेकर हॉस्पिटल पहुंचे जहां  डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

गुड़गांव: एकतरफा प्यार में पड़कर एक रेसलर ने बिलासपुर एरिया के भोडा खुर्द गांव में ताइक्वांडो खिलाड़ी की उसके घर में सोमवार रात गोली मारकर हत्या कर दी। घर वालों का कहना है कि एकतरफा प्यार में पागल आरोपी काफी समय से शादी करने का दबाव बना रहा था, लेकिन उनकी लड़की लगातार इंकार करती रही। पहले भी युवती ने आरोपी पर छेड़छाड़ के आरोप में एफआईआर दर्ज कराई थी। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ केस दर्ज कर उसकी तलाश शुरू कर दी है।

ये भी देखें : खुला रहा रेलवे क्रासिंग का गेट, धड़धड़ाती निकल गई डीएमयू, आगे हुआ ये

रात करीब 11 बजे युवती से बातचीत आया था युवक

बता दें कि गांव भोडा खुर्द निवासी 25 साल की सरिता जिलास्तर की ताइक्वांडो कि एक होनहार खिलाड़ी थी। बामनोला निवासी युवक सोमबीर सोमवार रात करीब 11 बजे युवती से बातचीत करने के लिए उसके घर पहुंचा।

इस दौरान  युवक,  युवती पर शादी के लिए दबाव बनाने लगा, लेकिन युवती ने युवक के प्रस्ताव को ठुकरा दिया। इस पर युवक, बिना कुछ कहे युवती को गोली मारकर कार से फरार हो गया। अचानक हुई इस वारदात से युवती के घर वाले कुछ समझ नहीं पाए और बेटी को लेकर हॉस्पिटल पहुंचे जहां  डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। सूचना मिलने पर बिलासपुर थाना पुलिस मौके पर पहुंच कर घटनास्थल की जांच की।

ये भी देखें : सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला: सीजेआई ऑफिस भी होगा RTI के दायरे में

ऐसे मिले थे दोनों

झज्जर के गांव बामनोला निवासी युवक सोमबीर से उसकी मुलाकात बतौर खिलाड़ी ही करीब 6 साल पहले रोहतक में हुई थी। तब वह रोहतक में कोचिंग करने गई थी। बताया गया कि तभी से सोमबीर उसके पीछे पड़ा था। वह एकतरफा प्यार में युवती से शादी करना चाहता था।

ये भी देखें : Akshay Kumar और Rohit Shetty के बीच हुई लड़ाई, देंखे वीडियो

कई बार उसे खेलने जाने के दौरान व रास्ते में परेशान कर शादी का दबाव बना चुका था। युवती ने कुछ महीने पहले आरोपी के खिलाफ इस बाबत एफआईआर भी दर्ज कराई थी, लेकिन युवक अब भी अपनी जिद पर अड़ा था।