Top

मुख्तार आयेगा लखनऊ: योगी सरकार का एक्शन जारी, बेटों की हो रही तलाश

यूपी पुलिस इन दिनों माफियाओं के खिलाफ लगातार कार्रवाई करने का काम कर रही है। इसके साथ ही पुलिस ने माफिया मुख्तार असारी का वारंट जारी कर पंजाब जेल में तामील करा दिया है।

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 17 Sep 2020 11:55 AM GMT

मुख्तार आयेगा लखनऊ: योगी सरकार का एक्शन जारी, बेटों की हो रही तलाश
X
मुख्तार को जल्द ही लाया जाएगा रोपड जेल से लखनऊ (social media)
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: यूपी पुलिस इन दिनों माफियाओं के खिलाफ लगातार कार्रवाई करने का काम कर रही है। इसके साथ ही पुलिस ने माफिया मुख्तार असारी का वारंट जारी कर पंजाब जेल में तामील करा दिया है। अब मुख्तार को पूछताछ के लिए यूपी लाने की कोशिश की जा रही है। संभावना है कि 21 सितम्बर को मुख्तार अंसारी को पुलिस लखनऊ ला सकती है। वहीं दूसरी तरफ पुलिस एफआईआर के बाद से फरार अब्बास और उमर की तलाश कर रही है।

ये भी पढ़ें:संजय राउत गरजे मोदी सरकार पर, कहा कि केंद्र नहीं दे रहा GST के पैसे

बेटों पर 25-25 हजार का रूपए का ईनाम घोषित किया गया

माफिया मुख्तार अंसारी की अवैध संम्पत्ति गिराए जाने के बाद पुलिस ने उनके बेटों पर 25-25 हजार का रूपए का ईनाम घोषित करने के साथ ही अब पुलिस इन दोनों के खिलाफ गैरजमानती वारण्ट का प्रार्थना पत्र दिया है। इन दोनो के खिलाफ पहले से ही लखनऊ के हजरतगंज थाने में पहले से मुकदमा दर्ज है।

प्रदेश के कई जिलों में पुलिस ने वाराणसी जोन के अलग-अलग जिलों में प्रतिबंधित मछली कारोबार, स्टोरेज, गिरोह बनाकर वसूली, कोयला कारोबार, बूचड़खाना समेत अन्य अवैध धंधों पर अंकुश लगाया है। पुलिस के अनुसार माफिया मुख्तार गैंग को मछली कारोबार से ही करीब 33 करोड़ रुपए की सालाना आय होती थी। बाकी आय दूसरे अवैध कार्यों से होती थी।

mafia-muktar-ansari mafia-muktar-ansari (social media)

बीते दिनों करोड़ों रुपए की अनधिकृत जमीन से कब्जा हटवाने के बाद प्रशासन ने मुख्तार अंसारी की पत्नी आफसा अंसारी व उसके दोनों सालों सरजील रजा और अनवर शहजाद पर गैंगस्टर की कार्रवाई की थी। पुलिस का कहना है कि विधायक मुख्तार अंसारी के इशारे पर ही पूरा गिरोह काम करता है। इन सभी के खिलाफ गाज़ीपुर कोतवाली में गैंगस्टर एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है।

मऊ सदर विधायक मुख्तार अंसारी भी फिलहाल रोपड़ जेल में बंद है

मऊ सदर विधायक मुख्तार अंसारी भी फिलहाल रोपड़ जेल में बंद है। उन पर कई मुकदमें दर्ज हैं। पुलिस इन सब मामलों की जांच करने में जुटी हुई है। इसके अलावा उनकी भी तलाश की जा रही है जो मुख्तार और उनके बेटो की मदद कर रहे हैं। मुख्तार अंसारी के साथ ही उसके बड़े बेटे अब्बास और छोटे बेटे उमर के खिलाफ हजरतगंज की डालीबाग कॉलोनी में निष्क्रांत जमीन पर कब्जा करके दो टॉवर का निर्माण कराने की एफआईआर दर्ज है।

ये भी पढ़ें:चीन-अमेरिका में युद्ध: शक्ति प्रदर्शन पड़ेगा भारी, अब खतरे में ये 3 देश

यह भी बताना जरूरी है कि गत 27 अगस्त को लखनऊ विकास प्राधिकरण न दोनो टावर ढहा दिए थे। जियामऊ के लेखपाल सुरजन लाल ने मुख्तार अंसारी और उनके बेटे उमर और अब्बास के खिलाफ हजरतगंज कोतवाली में जालसाजी, साजिश रचने, जमीन पर अवैध कब्जा करने के आरोप में केस दर्ज कराया था।

श्रीधर अग्निहोत्री

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Newstrack

Newstrack

Next Story