अब यूपी में बटेंगे पैसे ही पैसे: गरीबों के लिए खुशखबरी, CM योगी का ये एलान

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को कोरोना संकट से निपटने के लिए गठित टीम 11 के साथ समीक्षा बैठक की। इस दौरान उन्होंने निराश्रितों की मदद के निर्देश दिए। सीएम योगी ने कहा कि यूपी के ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों में बिना राशनकार्ड वाले निराश्रितों का तत्काल राशन कार्ड बनाये ताकि उन्हें पर्याप्त राशन दिया जा सके।

लखनऊ. उत्तर प्रदेश की योगी सरकार कोरोना संकट में श्रमिकों, जरूरतमदों के लिए एक के बाद एक बड़े फैसले ले रही है। इसी कड़ी में योगी सरकार ने अब ग्रामीण और शहरों दोनों क्षेत्रों में बिना राशनकार्ड वाले जरूरतमंदों की मदद का एलान किया है। इसके लिए सरकार उन्हें राशन तो उपलब्ध कराएगी ही, साथ ही आर्थिक मदद भी देगी। बता दें कि इसके पहले सीएम योगी ने श्रमिकों व कामगारों के रोजगार की व्यवस्था की थी, वहीं कई वर्गों के जरूरतमदों के खाते में लॉकडाउन के दौरान पैसा ट्रांसफर किया था।

राशन के साथ एक हजार रुपये देने का एलान

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को कोरोना संकट से निपटने के लिए गठित टीम 11 के साथ समीक्षा बैठक की। इस दौरान उन्होंने निराश्रितों की मदद के निर्देश दिए। सीएम योगी ने कहा कि यूपी के ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों में बिना राशनकार्ड वाले निराश्रितों का तत्काल राशन कार्ड बनाये ताकि उन्हें पर्याप्त राशन दिया जा सके। वहीं सीएम ये भी आदेश दिए कि ग्राम प्रधान निधि से निराश्रितों को 1000 रुपये की आर्थिक मदद भी दी जाये।

cm yogi

ये भी पढ़ेंः खतरे में एयरलाइंसः वैक्सीन मिलने के बाद भी लगेगा लंबा समय उबरने में

ऐसे की जाएगी निराश्रितों की मदद:

ग्रामीण क्षेत्रों में जहां ग्राम प्रधान निधि से निराश्रितों की मदद की जायेगी तो भीं शहरों में ये जिम्मेदारी नगर निकाय को दी गयी है। इनके राशन और आर्थिक मदद देने के साथ ही अगर किसी निराश्रित की मृत्यु हो जाती है तो उसके अंतिम संस्कार की जिम्मेदारी भी इनकी ही होगी। निधि से अंतिम संस्कार के लिए 5000 रुपये दिए जाने के भी निर्देश हैं।

ये भी पढ़ेंः मोदी सरकार के 10 बड़े फैसले, सभी वर्गों के लिए साबित होंगे वरदान

इसके अलावा आयुष्मान भारत योजना या मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना में रजिस्टर्ड न होने के बावजूद भी निराश्रितों के इलाज के लिए ग्राम प्रधान निधि या नगर निकाय निधि से तत्काल 2000 रुपये की राशि उपलब्ध कराई जाएगी।

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।